ऐसी शादी जिसकी हो रही हर तरफ चर्चा

फ़ैयाज़ खान मिस्बाही(ब्यूरो)

ग़ाज़ीपुर। अग्नि को साक्षी मानकर सात फेरे लेने के बाद वर-वधु ने दो फेरे और लगाए जिसे देखकर लोगों में कौतूहल होना स्वाभाविक था।आठवां फेरा कन्या भ्रूण हत्या न करने और जागरुकता फैलाने का था। वहीं नौवां फेरा पर्यावरण संरक्षण व संविधान में वर्णित मौलिक कर्तव्यों के पालन करने का लगाया गया।अवसर था सामाजिक कार्यकर्ता एवं चर्चित यूट्यूबर ब्रज भूषण दुबे की बेटी दीक्षा की शादी का जो वाराणसी स्थित सुसुवाही गौतम नगर के एक वाटिका से संपन्न हुई।दीक्षा मूलरूप से गाजीपुर के मनिहारी ब्लाक स्थित युसूफपुर खड़वा गांव की रहने वाली हैं। पेशे से अध्यापिका दीक्षा और एक कंपनी में एरिया मैनेजर संजय ने जयमाला के बाद 11 की संख्या में आम अशोक एवं तुलसी के पौधे रोपित कर लोगों से पर्यावरण बचाने की अपील की। उन्होंने कन्या भ्रूण हत्या को समाज का सबसे बड़ा अपराध बताया। संजय ने संविधान में उल्लिखित मौलिक कर्तव्य की शपथ लेते हुए प्राकृतिक पर्यावरण को बचाने का संकल्प लिया।सैकड़ों देश के लोगों ने दिया आनलाइन आशीर्वाद : सीमित लोगों के बीच शादी हुई।वहीं यूट्यूब एवं फेसबुक लाइव पर 100 से अधिक देश के लोगों ने वर-कन्या को अपना आशीर्वाद दिया।दीक्षा के पिता सामाजिक कार्यकर्ता ब्रज भूषण दुबे ने कहा कि भागदौड़ आपाधापी एवं कोरोना संक्रमण के दौर में आडंबर रहित मांगलिक कार्यक्रमों की जरूरत है जिसमें डिजिटल प्रयोग कर सभी को सहभागी बनाया जा सकता है। पर्यावरण के क्षेत्र में उल्लेखनीय योगदान करने वाले लोगों को सम्मानित भी किया गया। उक्त अवसर पर मार्कंडेय दुबे, समग्र विकास के इंडिया के प्रदेश महामंत्री सनाउल्लाह शन्ने, कैप्टन योगेंद्र यादव, यूट्यूबर पल्लवी, जूही, मिथिलेश, ऊषा, अश्वनी, विवेक कुंभनाथ जायसवाल शोभनाथ यादव अंबुज आदि लोगों ने वर कन्या को आशीर्वाद दिया।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!