पश्चिम बंगाल में सियासी बवाल शुरू, जेपी नड्डा के काफिले पर पत्थरबाजी, गाड़ी के शीशे टूटे

बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा के दो दिन के दौरे पर पश्चिम बंगाल में सियासी बवाल शुरू हो गया है । डायमंड हार्बर जाते वक्त जेपी नड्डा के काफिले पर पत्थर फेंके गए । इस दौरान कार्यकर्ताओं पर लाठी-डंडे से हमला भी किया गया । बीजेपी महासचिव कैलाश विजयवर्गीय भी काफिले में मौजूद थे । उनकी भी गाड़ी के शीशे तोड़े गए ।

इससे पहले पश्चिम बंगाल के दौरे पर गए जेपी नड्डा को बुधवार को तृणमूल कांग्रेस समर्थकों की ओर से कथित रूप से काले झंडे दिखाए गए । नड्डा जब पार्टी के चुनाव कार्यालय का उट्घाटन करने के लिए कोलकाता के हेस्टिंग्स क्षेत्र पहुंचे तो उन्हें काले झंडे दिखाए गए । यह घटना नए खोले गए कार्यालय के बाहर घटित हुई ।

बंगाल पुलिस की ओर से इस संबंध में जारी बयान में कहा गया है कि बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा सुरक्षित रूप से कार्यक्रम स्थल डायमंड हार्बर पहुंच गए । उनके काफिले को कुछ नहीं हुआ । डायमंड हार्बर में फाल्टा पुलिस स्टेशन में देबिपुर में कुछ लोगों ने आंशिक रूप से और अचानक काफिले के पीछे चलने वाले वाहनों की ओर पत्थर फेंके।हालांकि सभी लोग सुरक्षित हैं और स्थिति शांतिपूर्ण है । वास्तविक घटनाओं का पता लगाने के लिए मामले की जांच की जा रही है ।

दक्षिण 24 परगना में बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कहा, ‘हमारे काफिले में एक कार नहीं है, जिस पर हमला नहीं किया गया । मैं सुरक्षित हूं क्योंकि मैं बुलेटप्रूफ कार में यात्रा कर रहा था। पश्चिम बंगाल में अराजकता और असहिष्णुता की इस स्थिति को समाप्त करना है । कैलाश विजयवर्गीय और मुकुल रॉय घायल हैं ।’

वहीं, बीजेपी नेता कैलाश विजयवर्गीय ने कहा, ‘मैं इस हमले में घायल हो गया हूं । पार्टी अध्यक्ष की कार पर भी हमला किया गया । हम इसकी कड़ी निंदा करते हैं. पुलिस की मौजूदगी में गुंडों ने हम पर हमला किया । ऐसा लगा जैसे हम अपने ही देश में नहीं हैं ।’

पश्चिम बंगाल के गवर्नर जगदीप धनखड़ ने कहा, ‘राज्य में अराजकता की चौंकाने वाली रिपोर्ट पर चिंतित हूं । सुबह-सुबह मैंने मुख्य सचिव और डीजीपी को अलर्ट किया था, लेकिन फिर भी यह घटना हो गई ।’

इस मामले में बंगाल पुलिस ने कहा कि जेपी नड्डा के काफिले को कुछ नहीं हुआ। देबिपुर में कुछ लोगों ने काफिले के पीछे चलने वाले वाहनों पर पत्थर फेंके गए हैं । सभी लोग सुरक्षित हैं और स्थिति शांतिपूर्ण है। वास्तविक घटनाओं का पता लगाने के लिए मामले की जांच की जा रही है ।

इससे पहले बीजेपी ने दावा किया कि टीएमसी ने बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा के दौरे से कुछ घंटे पहले ही बीजेपी नगर अध्यक्ष सुरजीत हल्दर पर हमला किया है। बीजेपी का आरोप था कि जब जेपी नड्डा के स्वागत को लेकर बीजेपी कार्यकर्ता झंडा-पोस्टर लगा रहे थे, तभी टीएमसी के लोगों ने उन पर हमला बोल दिया।

बीजेपी नगर अध्यक्ष सुरजीत हलधर ने कहा कि हम जेपी नड्डा जी की यात्रा से पहले झंडे और बैनर लगा रहे थे, तभी 100 से अधिक टीएमसी कार्यकर्ताओं के एक समूह ने हम पर हमला किया। उन्होंने हमें बुरी तरह पीटा है. उन्होंने मुझे चेतावनी भी दी कि वे मुझे मार देंगे । हमारे 10-12 कार्यकर्ता घायल हो गए हैं ।

वहीं, तृणमूल कांग्रेस ने कहा कि यह एक झूठा आरोप है क्योंकि हम कभी ऐसा काम नहीं करते हैं। असल में बीजेपी कार्यकर्ताओं ने अभिषेक बनर्जी का पोस्टर फाड़ दिया है । दिलीप घोष और कैलाश विजयवर्गीय हमेशा गलत बयान देते हैं, बीजेपी केवल झूठ बोलती है ।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!