प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना की जागरूकता बाइक रैली को जिलाधिकारी ने हरी झंडी दिखाकर किया रवाना

सुशील कश्यप (संवाददाता)

पीलीभीत। फसल बीमा कराने हेतु किसानों में जागरूकता बढे इसके लिए आज जिला मुख्यालय से सीएससी संचालको के द्वारा बाइक रैली का आयोजन किया गया, जिससे लोगो में जागरूकता बढे और वो लोग फसलो में होने वाले नुकसान के लिये अपनी फसल का बीमा करा सके
भारत सरकार के मिनिस्ट्री आफ आईटी एवं इलेक्ट्रॉनिक मंत्रालय द्वारा संचालित कॉमन सर्विस सेंटर “सीएससी” संचालकों ने आज प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना अंतर्गत किसानों एवं नागरिको को जागरूक करने के लिए जागरूकता बाइक रैली निकालकर इस योजना में और गति देने का काम किया है। जागरूकता रैली का शुभारंभ जिलाधिकारी पुलकित खरे ने हरी झंडी दिखाकर रैली को रवाना किया। उन्होने बताया कि जनपद के सरकारी केंद्रों के अलावा जिले के सभी कॉमन सर्विस सेंटर “सीएससी” पर प्रधानमंत्री फसल बीमा की सुविधा उपलब्ध है। रैली जिलाधिकारी कार्यालय से आरंभ होकर बाइक रैली विकास खंड के मरोरी की दर्जनों ग्राम पंचायतों से होते हुए ग्राम पंचायत बिथरा में समाप्त हुई एवं जनपद के आसपास के इलाकों में इस योजना के तहत होने वाले लाभ के बारे में आम जनमानस को जागरूक किया।

*क्या है फसल बीमा*
प्राकृतिक आपदा, कीट या बीमारी के कारण किसी भी अधिसूचित फसल के बर्बाद होने की स्थिति में किसानों को बीमा का लाभ और वित्तीय समर्थन देने के लिए प्रधानमंत्री फसल योजना की शुरुवात की गई थी, फसल का नुकसान होने की घटना के 7 दिन के भीतर राज्य सरकार द्वारा इस प्रावधान के लिए घोषणा करनी होती है, जबकि 15 दिन के भीतर बीमित छेत्र में बीमा कंपनी व राज्य सरकार की संयुक्त कमेटी प्रभावित किसानो की फसल का निर्धारण करती है इसके बाद मुआवजा की घोषणा होती है

*क्या लगेंगे पेपर*
किसी भी किसान को फसल बीमा करने के लिए निकट के सीएससी केंद्र पर जा कर अपना आधार कार्ड, बैंक खाते की जानकारी, खसरा-खेतौनी, फसल बोने का स्वप्रमाणित घोषणा पत्र , मोबाइल नंबर और फसल संबंधी जानकारी दर्ज कर बीमा करा सकते है

*कैसे मिलेगा योजना का लाभ*
फसल बीमा योजना के तहत पंजीकृत किसानों को ओलावृष्टि, प्राकृतिक आपदा, जल भराव, प्राकृतिक आगजनी जैसी घटना होने पर कृषि विभाग और बीमा कंपनी के द्वारा संयुक्त सर्वे होने के बाद बीमा कंपनी द्वारा भुगतान किया जाता है

किसान को बीमा करने के बाद उसका एक प्रिंट दिया जायेगा जिसमे कितनी राशि उसको देनी है यह लिखा रहता है किसान को फसल और रकबे के अनुसार प्रीमियम घटता और बढ़ता है सबसे कम 30 रुपये के भुगतान से बीमा शुरू है
उसके अतरिक्त किसी को अलग से कोई चार्ज नही देना होता है फसल बीमा के लिये कोई भी किसान सीएससी केंद्र , कृषि विभाग, बैंक या नामित बीमा कंपनी के प्रतिनिधि से संपर्क कर अपना बीमा करवा सकते है
जिला प्रबंधक शुभम सिद्धार्थ ने बताया कि वर्तमान में सरकार द्वारा जारी इस योजना से लोगों को लाभान्वित किया जाना आरंभ हो चुका है, जिसकी अंतिम तिथि 31 दिसंबर है। इसमे जन सेवा केंद्र संचालक महेंद्र कुमार अन्य संचालक उपस्थित रहे।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!