यूपी फ़िल्म सिटी को लेकर सियासत तेज, शिवसेना समेत कई दलों ने सरकार के फैसले पर उठाये सवाल

उत्तर प्रदेश के ग्रेटर नोएडा में प्रस्तावित फिल्म सिटी को लेकर सियासत तेज हो गई है । शिवसेना समेत कई दलों ने उत्तर प्रदेश सरकार के फैसले पर सवाल उठाए हैं । वहीं उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अपने ड्रीम प्रोजेक्ट को धरातल पर उतारने के लिए आज मुंबई के दौरे पर हैं, जहां उन्होंने कई फिल्मी हस्तियों से मुलाकात की।

इस मुलाकात के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि हमने आज सुबह लखनऊ नगर निगम के बांड लॉन्च किए। यह उत्तर भारत का पहला नगर निगम है, जिसके बांड की लिस्टिंग बीएसई में हई है। मैं उत्तर प्रदेश का पहला सीएम हूं, जिसे बेल बजाने की रस्म का सम्मान मिला है ।

सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि हमने आज कई हस्तियों से बात की है । हमें पिछले 3 वर्षों में 3 लाख करोड़ का निवेश मिला है। हमने यूपी में कानून व्यवस्था और पारदर्शिता लाने में सुधार किया है । यूपी में एक विश्व स्तरीय फिल्म सिटी बनाने की भी योजना है, हमने इसके लिए इस क्षेत्र के विशेषज्ञों के साथ चर्चा की।

सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि हम प्रस्तावित प्रस्तावित फिल्म सिटी के लिए एनसीआर में करीब 1000 एकड़ भूमि में खरीदने की योजना बना रहे हैं, जो जेवर एयरपोर्ट से केवल 6 किलोमीटर की दूरी पर है । इस जगह पर भारत और विदेशों के शहरों से सबसे अच्छी कनेक्टिविटी होगी ।

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के आरोपों पर सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि कोई कुछ छीन नहीं लेता । यह सिर्फ ओपन मार्केट कंपटीशन है । यह इस बारे में है कि कौन आपको बेहतर सुविधा देता है, जो कि अनुकूल माहौल प्रदान करता है ।मुंबई फिल्म सिटी जैसा है, वैसा ही काम करेगा। यूपी का फिल्म सिटी अपना काम करेगा ।

सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि हमारा काम सुविधाएं प्रदान करना है। हम इसे एक क्षेत्र के लिए प्रतिबंधित नहीं करना चाहते हैं, लेकिन इसे विश्वस्तरीय बनाना चाहते हैं। मैंने विशेषज्ञों के साथ बातचीत की. हम किसी से कुछ नहीं छीन रहे हैं। मैं यहां छीनने के लिए नहीं आया हूं, हम कुछ नया देने के लिए आए हैं। सभी को कुछ नया देना होगा ।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!