सामुदायिक शौचालयों के निर्माण में खुलेआम उड़ रही मानकों की धज्जियाँ

जनपद न्यूज़ ब्यूरो

मिर्जापुर । गरीब कल्याण रोजगार अभियान के तहत ब्लाकों में चलाए जा रहे खुले में शौच मुक्त अभियान ओडीएफ के स्थायित्व हेतु ग्राम पंचायतों में सामुदायिक शौचालयों का निर्माण कराया जा रहा है, इसमें मानकों की खुलेआम धज्जियां उड़ाई जा रही हैं। मुख्य विकास अधिकारी अविनाश सिंह के निर्देश पर एडीपीआरओ सीबी सिंह और जिला कंसलटेंट विनोद कुमार श्रीवास्तव द्वारा कई ब्लाकों में बन रहे सामुदायिक शौचालयों के निरीक्षण के दौरान प्रकरण पकड़ में आया है। निरीक्षण में पाया कि प्रधान एवं सचिव द्वारा सामुदायिक शौचालयों के निर्माण में मानकों की अनदेखी कीया जा रहा है।विकास खंड कोन के ग्राम पंचायत बल्ली परवा, मुजेहरा कला, सागरपुर, नेवढि़या एवं चिदलिक पटेहरा में अपर जिला पंचायत राज अधिकारी सीबी सिंह और जिला कंसलटेंट विनोद कुमार श्रीवास्तव द्वारा स्थलीय निरीक्षण किया।

ग्राम पंचायत नेवढ़िया में मात्र नींव भरकर एक दीवार 5 फुट तक बनाकर छोड़ा गया था, लगभग ढाई महीने से कार्य बंद मिला। ग्राम पंचायत सागरपुर में आरसीसी की ढलाई के बाद बाहरी दीवार बनाने के बाद कार्य बंद मिला। ग्राम पंचायत चिदलिक पटेहरा में आरसीसी की ढलाई के बाद कार्य धीमी गति से चलता मिला। सभी शौचालयों में इंसीनरेटर हैंडवाश, दिव्यांग शौचालय, इंडियन शौचालय, बाथरूम आदि एक सप्ताह में पूर्ण करें अन्यथा संबंधित के विरुद्ध कार्रवाई की जाएगी।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!