पीएम मोदी ने कहा- कृषि कानून के खिलाफ विपक्ष भ्रम फैलाने का काम कर रहा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज कृषि कानूनों पर बात करते हुए उसकी सकारात्मकता को देशवासियों के सामने रखा। वाराणसी में एक कार्यक्रम में अपने संबोधन में पीएम मोदी ने नए कानूनों के फायदे बताते हुए कहा कि वे राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय दोनों बाजारों में बेहतर पहुंच दे रहे हैं, लेकिन अगर किसी को लगता है कि पहले की प्रणाली बेहतर है, तो यह कानून किसी को रोक नहीं रहा है।

पीएम मोदी ने कहा, “सुधारों ने किसानों को नए विकल्प और सुरक्षा उपाय दिए हैं।” उन्‍होंने कहा, ”एक मंडी के बाहर किसी भी लेनदेन को अवैध माना जाता था। यह छोटे किसानों के खिलाफ था, जोकि मंडियों तक भी नहीं पहुंच सकते थे। अब यहां तक कि छोटे किसान भी मंडियों के बाहर कानूनी रूप से काम कर सकते हैं। इसलिए किसानों को नए विकल्प मिल गए हैं और उन्हें भागने से रोकने के लिए कानूनी सुरक्षा उपाय भी हैं।”

वाराणसी में प्रधानमंत्री मोदी ने विपक्ष पर बड़ा हमला किया है। पीएम मोदी ने कहा कि कृषि कानून के खिलाफ विपक्ष भ्रम फैलाने का काम कर रहा है। लोगों को संबोधित करते हुए पीएम किसानों पर बात की और कहा कि हमने MSP पर जो वादा किया था वो पूरा किया। पहले सालों तक MSP को लेकर छल किया, लेकिन हमने वादा किया था लागत का डेढ़ गुना MSP देंगे और दिया। भ्रम फैलाने वालों ने किसानों के साथ छल किया है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सोमवार को अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी पहुंचे, जहां वे कई बुनियादी ढांचा परियोजनाओं का उद्घाटन करेंगे और एक देव दीपावली कार्यक्रम में भाग लेंगे। हवाई अड्डे पर उतरने के कुछ ही समय बाद पीएम मोदी ने राष्ट्रीय राजमार्ग 19 के चौड़ी हंडिया (प्रयागराज) -राजतालब (वाराणसी) खंड को राष्ट्र को समर्पित किया।

पीएम मोदी ने “हर हर महादेव” मंत्र के साथ अपने भाषण की शुरुआत की और देव दीपावली और गुरुपर्व की शुभकामनाएं दीं। पीएम मोदी ने कहा, “आज समर्पित सड़क से प्रयागराज के लोगों के साथ-साथ काशी के लोगों को भी फायदा होगा। गुरु नानक जयंती और देव दीपावली के अवसर पर वाराणसी में बुनियादी ढांचे में सुधार हो रहा है। इससे वाराणसी और प्रयागराज दोनों को फायदा होगा।”

पीएम मोदी ने कहा कि कुंभ के दौरान नई सड़क फायदेमंद होगी। लोगों को काशी और प्रयागराज के बीच यात्रा करते समय कई समस्याओं का सामना करना पड़ा। लेकिन सड़क के चौड़ीकरण से न केवल समस्या खत्म होगी, बल्कि यह कुंभ के दौरान भी फायदेमंद होगी।

प्रधानमंत्री ने कहा कि 2017 में योगी आदित्यनाथ के मुख्यमंत्री बनने के बाद से उत्तर प्रदेश में बुनियादी ढांचे के विकास की गति बढ़ी है। 2017 से पहले यूपी में बुनियादी ढांचे की स्थिति क्या थी, यह सभी को पता है। लेकिन योगी जी के मुख्यमंत्री बनने के बाद बुनियादी ढांचे के विकास की गति बढ़ गई। आज यूपी को एक्सप्रेस प्रदेश के नाम से जाना जाता है।

उन्‍होंने कहा, “काशी पिछले छह वर्षों से अपनी प्राचीनता बनाए रखते हुए बदल रही है। पिछले छह वर्षों में काशी में 18,000 करोड़ रुपये की विकासात्मक योजनाओं का उद्घाटन या निर्माणाधीन किया गया है।” कुल 2,447 करोड़ रुपये की लागत से बने नए चौड़े और छह-लेन वाले एनएच-19 के 73 किलोमीटर के हिस्से से प्रयागराज और वाराणसी के बीच यात्रा का समय एक घंटे कम हो जाएगा।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!