पंजाब-हरियाणा-दिल्ली के बाद अब पश्चिमी उत्तर प्रदेश में भी किसानों का प्रदर्शन

कृषि कानून के खिलाफ किसानों का प्रदर्शन लगातार बड़ा होता जा रहा है। पंजाब-हरियाणा-दिल्ली के बाद अब पश्चिमी उत्तर प्रदेश में भी किसानों के प्रदर्शन का असर दिख रहा है । मेरठ, मुजफ्फरनगर, बागपत में भी किसान सड़कों पर उतर गए हैं और हाइवे को जाम कर दिया गया है ।

बीते दिन ही उत्तर प्रदेश भारतीय किसान यूनियन की ओर से ऐलान किया गया था, वो शुक्रवार दोपहर को कृषि कानून के खिलाफ सड़कों पर उतरेंगे । जिसका असर दिखना शुरू हो गया है। अब किसानों की ओर से दिल्ली-देहरादून हाइवे पर जाम लगाया जा रहा है ।

गुरुवार को भारतीय किसान यूनियन के राकेश टिकैत ने बयान दिया था कि पंजाब-हरियाणा के किसानों की जो मांग है वो उसका समर्थन करते हैं, ऐसे में उनके संगठन के सभी किसान सड़कों पर उतरेंगे । प्रदर्शन को लेकर किसानों ने बीते दिन मुजफ्फरनगर में महापंचायत भी की थी ।

गौरतलब है कि किसानों की ओर से केंद्र द्वारा लाए गए तीन कृषि कानूनों का विरोध किया जा रहा है । किसानों का कहना है कि कानून वापस होना चाहिए, MSP और मंडी को लेकर स्थिति साफ करनी चाहिए ।

शुक्रवार सुबह से ही दिल्ली-हरियाणा, हरियाणा-पंजाब बॉर्डर पर किसान सड़कों पर हैं और पुलिस से संघर्ष कर रहे हैं । सिंधु बॉर्डर पर पुलिस और किसानों के बीच भिड़ंत हुई, पुलिस ने आंसू गैस के गोले दागे और वाटर कैनन का इस्तेमाल किया ।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!