रबी गोष्ठी का आयोजन,पैदावार बढाने की बताई तरकीब

विनोद कुमार (संवाददाता)

शहाबगंज। राजकीय बीज भंडार परिसर में बुधवार को रवि गोष्ठी का आयोजन किया गया ।गोष्ठी में विशेषज्ञों ने किसानों को पैदावार बढ़ाने के तरीकों की जानकारी दी।राजेश प्रसाद ने किसानों को बताया कि फसल के अवशेष प्रबंधन में पराली को जलाने से होने वाले दुष्परिणाम के बारे में बताया। उन्होंने बताया कि खेतों में फसल अवशेष को जलाने से मित्र कीट नष्ट हो जाते है साथ ही पर्यावरण को प्रदूषित करने में मुख्य कारक बन रहे।इसको ध्यान में रखते हुए किसान अपने अवशेषों को खेतों में न जलाएं यह गैरकानूनी है बल्की पराली को नष्ट करने के लिए दवा का प्रयोग करें।राजकीय बीज भंडार पर दवा उपलब्ध है ।दवा का छिड़काव करने से पुवाल को गलाने में सहयोग करता है और मिट्टी की उर्वरा शक्ति बढ़ाने में कारगर साबित होगा।किसान इस दवा का प्रयोग करें। गेहूं के अधिक पैदावार के लिए गेहूं की अच्छी प्रजाति का चयन करें साथ ही बीज को ट्राईकोडर्मा से शोधित करने के बाद ही खेतों में बोये जिससे पैदावार निश्चित रूप से बढ़ोत्तरी होगी। उन्होंने बताया कि जो किसान सम्मान निधि का लाभ नहीं ले पा रहे हैं अपने समस्त प्रमाण पत्रों के साथ विभाग में जमा कर दें।
प्राविधिक सहायक अमित सिंह ने बताया कि गेहूं की पैदावार के लिए समय से बुवाई के साथ साथ खरपतवार नाशक दवा का अवश्य प्रयोग करें ।खरपतवार नाशक से गेहूं में जमें खरपतवार को नष्ट करता है साथ ही गेहूं के के विकास में सहायक होता है। उन्होंने कृषि विभाग द्वारा किसानों को छूट पर दी जा रही कृषि उपकरणों के बाबत जानकारी दिया।गोष्ठी में किसान उपेंद्र सिंह, पप्पू पासवान ,विभुती पांडे, रामेश्वर,जितेंद्र,कपिल देव रामसेवक,दीपक पाठक ,शिवम गुप्ता, जगत सिंह जैनेंद्र सिंह, आदि किसान कर्मचारी उपस्थित थे।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!