ब्रेकिंग : सर्दी में कोरोना ने पकड़ी रफ्तार, आँकड़ा हुआ 4400 पार

आनंद कुमार चौबे (संवाददाता)

सोनभद्र । सर्दियों की शुरुआत के साथ ही कोरोना वायरस का ग्राफ तेजी से बढ़ने लगा है। बात बीते 24 घंटे की करें तो स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी सूची के अनुसार जिले में 30 नए मामले सामने आए हैं। इनमें सबसे ज्यादा विकास खण्ड चोपन में कुल 13 मामले सामने आए हैं, वहीं रॉबर्ट्सगंज और म्योरपुर में 8-8 जबकि घोरावल में एक नया मामला सामने आया है। इसी के साथ जिले में अब कुल संक्रमितों की संख्या बढ़कर 4426 हो गयी है। वहीं कोरोना वायरस से जंग जीतने वाले मरीजों की संख्या भी बढ़कर 4116 हो गयी है। बीते 24 घण्टे में 35 मरीज स्वस्थ हुए हैं। वहीं जिले में 21 नवम्बर के बाद कोरोना वायरस से कोई मौत नहीं होने से जिला प्रशासन ने राहत की सांस ली है। जिले में अब एक्टिव मरीजों की संख्या 244 हो गयी है। जिले में अब 111 मरीज होम आइसोलेशन में हैं।

वहीं ठंड में कोरोना के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए जिला अस्पताल के सीएमएस डॉ0 पी0बी0गौतम ने जनपद न्यूज़ live से बातचीत की। इस दौरान उन्होंने कहा कि सर्दी में सबसे बड़ी चुनौती कोरोना वायरस को पहचानने की है। क्योंकि इस समय सामान्य सर्दी-जुकाम होना आम बात है। उन्होंने बताया कि कोरोना वायरस का प्रकोप किसी भी वायरस की तरह ही होता है, बुखार हो सकता, ठंड हो सकती है, सर्दी-जुकाम हो सकता है, कोरोना हुआ तो बहुत अधिक थकान, सूंघने और स्वाद खत्म भी हो सकता है। कई बार लोगों में शुरू में ही सांस लेने में परेशानी आने लगती है लेकिन लोग ध्यान नहीं देते और बीमारी गंभीर हो जाती है। वायरस शरीर में जाने पर अलग-अलग रूप में प्रभाव डालता है। इसलिए लक्षण दिखने पर तुरंत जांच कराएं।

सीएमएस डॉ0 पी0बी0गौतम ने बताया कि “वर्तमान में कोरोना का दूसरा पीक समय शुरू हो चुका है। ऐसे में हमें बेहद सावधानी बरतने की जरूरत है। हम मिलकर ही इस महामारी से लड़ सकते हैं, जिसमें सबका योगदान बेहद जरूरी है। सर्दियों में संक्रमण फैलने का मुख्य कारण सांस छोड़ने, खांसने या छींकने के दौरान मुंह या नाक से निकलीं बूंदों के सीधे संपर्क में आना हो सकता है। इसलिए लाेग घर से अनावश्यक बाहर न निकलें। यथासंभव यात्रा टालें। जरूरी होने पर मास्क पहनकर ही बाहर जाएं, मास्क से मुंह व नाक अच्छे से ढककर रखें। बार-बार हाथ धोते रहें अथवा सेनेटाइजर का उपयोग करें। मास्क लगाने के साथ ही फिजिकल डिस्टेंसिंग की पालना अवश्य करें। कोई कितना भी करीबी क्यों न हो, 6 फुट की दूरी बनाए रखें। किसी भी समारोह एवं पार्टी आदि में जाने से बचें। शादी या मृत्यु संस्कार आदि जरूरी होने पर आमंत्रितों की संख्या कम से कम रखें एवं कोविड नियमों की सख्ती से पालना करें। नियमित धार्मिक, जन्मदिन, विवाह वर्षगांठ आदि आयोजन कुछ दिन के लिए न ही करें और ऐसे आयोजनों में शामिल होने से भी परहेज करें। संभव हो तो घर का जरूरी सामान एक साथ (कम से कम एक माह का) खरीदें ताकि बार-बार दुकान आदि पर घर से बाहर न जाना पड़े।”

स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी सूची



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!