नपं अध्यक्ष के खिलाफ धरने पर बैठे सभासद, बोला जिला प्रशासन, सभी जाँच पूरी, शासन स्तर से लंबित है कार्यवाही

मनोज वर्मा (संवाददाता)

सोनभद्र । जिले के पिपरी नगर पंचायत के सभी 13 सभासद अनिश्चितकालीन धरने पर बैठ गए हैं। सभासदों का आरोप है कि नगर पंचायत अध्यक्ष दिग्विजय सिंह मनमाने तरीके से काम करते हैं और भ्रष्टाचार में डूबे हुए हैं। उन्होंने पहले भी जिलाधिकारी को पत्र लिखकर, नगर पंचायत द्वारा कराए गए कार्यों की जांच की मांग की थी, लेकिन आज तक कोई जांच नहीं हुई। इसके बाद सभी सभासद अनिश्चितकालीन धरने पर बैठ गए। वहीं सभासदों के धरना समाप्त कराने गए उपजिलाधिकारी को बैरंग लौटना पड़ा।

पिपरी नगर पंचायत के सभासद पहले भी नगर पंचायत अध्यक्ष दिग्विजय सिंह के खिलाफ मनमाने तरीके से कार्य करने और कराए गए कार्यों में सहमति न लेने के साथ भ्रष्टाचार का आरोप लगा चुके हैं। सभासदों का कहना है कि इस संबंध में जिलाधिकारी से की गई शिकायत पर भी कोई कार्रवाई नहीं हुई।

वहीं सभासदों के अनिश्चितकालीन धरने पर बैठने के बाद जिलाधिकारी कार्यालय से एक प्रेस नोट जारी किया गया है। इस प्रेस नोट में बताया गया है कि सभासदों की मांग पर अपर जिलाधिकारी योगेंद्र बहादुर सिंह ने जांच की थी। 3 अक्टूबर 2020 को जांच आख्या सौंप दी गई थी। जांच आख्या को 20 अक्टूबर को ही शासन के नगर विकास अनुभाग-1 को भेजा जा चुका है। अब कार्रवाई शासन स्तर से होनी है।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!