माया बनी थानेदार ने विवाद को कराया समाप्त

अनिता अग्रहरि (संवाददाता)
धीना थाना पर फाइलों व कागजों का अवलोकन करती थानेदार माया उपाध्याय

धीना। धीना थाना पर माया उपाध्याय ने एक दिन की थानाध्यक्ष बनकर सालों से चल रहे घरेलू विवाद को दोनों पक्षों में सामजंस्य बनाकर समाप्त कराया।कन्दवा थाना पर बनी थानाध्यक्ष रीता बिंद ने जमीनी विवाद को समाप्त कराने का काम किया।मौके पर दोनों छात्राओं ने थाना परिसर व फाइलों का जांच पड़ताल कर कोरोना वायरस से बचाव का उपाय बताया।मिशन शक्ति के तहत शुक्रवार को प्रत्येक थानों पर छात्राओं को एक दिन का थानाध्यक्ष बनाने की योजना थी।इसको देखते हुए धीना थाने पर कमालपुर निवासिनी कक्षा 10 में अध्ययनरत माया उपाध्याय को व कन्दवा थाने पर पई निवासिनी रीता बिंद को थानाध्यक्ष बनाया गया।थानेदार बनी छात्राओं ने थाना परिसर व फाइलों का निरीक्षण किया।माया उपाध्याय ने कागजातों का गहनता से निरीक्षण किया। वही कहा कि कोरोना वायरस को देखते मास्क व सोशल डिस्टेंस का पालन करना अनिवार्य है।थानों पर फरियादियों के साथ अच्छा व्यवहार करना चाहिए।इस मौके पर धीना थानाध्यक्ष अतुल कुमार प्रजापति, कन्दवा थानाध्यक्ष विद्यासागर प्रसाद, धीना थाना उपनिरीक्षक राजनारायण पांडेय, दुर्गादत्त यादव, धनंजय मिश्रा, कमालपुर चौकी प्रभारी कपिलदेव यादव, विजयबहादुर सिंह,सन्तोष सिंह आदि रहे।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!