ब्रती महिलाओं ने दी डूबते सूर्य को अर्घ्य 

धर्मेन्द्र गुप्ता (संवाददाता)

– सुरक्षा व्यवस्था मे पुलिस के जवान मुस्तैद
विंढमगंज । आस्था का महापर्व सूर्य षष्टी ब्रत के तीसरे दिन नदी की जलधारा में खड़ी होकर ब्रती महिलाओं ने अस्चलगामी सूर्य को अर्घ दिया।इस ब्रत को महापर्व के रूप मे मनाने वाले श्रध्दालुओं की भीड़ छठ घाटों पर उमड़ पड़ी।
भगवान भाष्कर के उपासना में डुबे हुये सुर्यदेव के निराजल व्रत के बाद भी व्रती महिलाएं व पुरुषों मे काफी उत्साह देखा गया।

फुलवार के मलिया नदी के पावन तट पर महिला-पुरुष श्रध्दालुओं ने डुबते हुये भगवान भास्कर को अर्घ दिया।तमाम व्रती महिलाएं सडक पर लेटते हुये छठ घाटों तक पहुची।कोविड-19 महामारी को देखते हुए छठ घाटों पर एक जगह ज्यादा भीड़ न एकत्रित हो इसके लिए महिला पुलिस सहित विंढमगंज थानाध्यक्ष मौजूद रहे। ब्रती महिलाएं रातभर नदी मे रहकर उपासना के पश्चात शनिवार को उगते हुये सूर्य को अर्घ्य देकर इस महापर्व की पूर्णाहुति करेंगे।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!