गोपाष्टमी के अवसर पर प्रत्येक गो-आश्रय स्थल पर एक कार्यक्रम आयोजित करने का सीएम ने दिया निर्देश

■ कार्यक्रम में जनप्रतिनिधियों को आमंत्रित किया जाए

■ इस दिन पशु स्वास्थ्य परीक्षण का विशेष कार्यक्रम संचालित किया जाए

■ गो-आश्रय स्थलों में संरक्षित गोवंश का खुरपका-मुंहपका के सम्बन्ध में टीकाकरण किया जाए

■ गो-आश्रय स्थलों की व्यवस्थाओं की नियमित समीक्षा की जाए

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने 22 नवम्बर को गोपाष्टमी के अवसर पर प्रत्येक गो-आश्रय स्थल पर एक कार्यक्रम आयोजित किए जाने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि इस कार्यक्रम में सांसद, विधायक, पार्षद, ग्राम प्रधान आदि जनप्रतिनिधियों को आमंत्रित किया जाए। इस दिन पशु स्वास्थ्य परीक्षण का विशेष कार्यक्रम संचालित किया जाए। मुख्यमंत्री ने पशुपालन विभाग को निर्देशित किया है कि गो-आश्रय स्थलों में संरक्षित गोवंश का खुरपका-मुंहपका के सम्बन्ध में टीकाकरण किया जाए। यह सुनिश्चित किया जाए कि पशु चिकित्साधिकारी नियमित रूप से गोवंश का स्वास्थ्य परीक्षण करते रहें। संरक्षित गोवंश के लिए शीत से बचाव हेतु सभी उपाय सुनिश्चित किए जाएं। कुपोषित परिवारों को ‘मुख्यमंत्री निराश्रित/बेसहारा गोवंश सहभागिता योजना’ के अन्तर्गत गौ आश्रय स्थल से गाय उपलब्ध करायी जाए। उन्होंने गो-आश्रय स्थलों की व्यवस्थाओं की नियमित समीक्षा किए जाने के निर्देश भी दिए हैं।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!