कोरोना की नहीं है परवाह, बाजार में दीपावली का छाया रहा उत्साह, मास्क लगाना भूल गए लोग

घनश्याम पांडेय/विनीत शर्मा (संवाददाता)

चोपन। दीपावली का पर्व 14 नवंबर को है। लोगों में दीपावली का खासा उत्साह है। मगर कोरोना अभी खत्म नहीं हुआ है। नगरवासी कोरोना काल में ही दीपावली का पर्व मना रहे हैं। लेकिन, दीपावली के उत्साह के चलते नगरवासी कोरोना को भूल गए हैं। त्योहार की खरीदारी को बाजार में काफी भीड़ देखी जा रही है। लोग बाजार में दिनभर बिना मास्क के घूमते दिख रहे हैं। ऐसा लगता है कि दीपावली के नजदीक आते ही लोग कोरोना को लेकर बेफिक्र हो गए हैं। कोरोना काल को करीब आठ महीने का समय होने को है। लाकडाउन के करीब ढाई महीने बाद अनलाक में भी बाजार ग्राहकों से गुलजार नहीं हुए तो व्यापारी भी मायूस हो गए थे। मगर, अब करीब आठ महीने बाद दीपावली पर्व पर एक बार फिर बाजार ग्राहकों से गुलजार होने लगे हैं। वहीं शादियों का भी सीजन है। त्योहारी और शादी सीजन की खरीदारी के लिए बाजारों में ग्राहकों की भीड़ बढ़ने लगी है। दीपावली के पर्व पर कपड़े, बर्तन, ज्वेलरी या फिर आटोमोबाइल सेक्टर हो सभी का अच्छा कारोबार होता है। वाहन और ज्वेलरी के लिए तो कई दिनों पर एडवांस बुकिग भी होने लग जाती है। नगर के वैरियर हॉस्पिटल रोड व मेन मार्केट में सबसे अधिक भीड़ रहती है। यहां सुबह से शाम तक लोगों की आवाजाही बनी रहती है।

दीपावली पर्व की खरीदारी का उत्साह लोगों में इस कदर है कि उन्हें न मास्क याद है और न ही शारीरिक दूरी। भारी संख्या में लोग बिना मास्क के बाजार में घूमते हुए नजर आ रहे हैं। बातचीत में एक दुकानदार ने जनपद न्यूज़ live के संवाददाता से बताया कि देश भले ही कोरोना की मार झेल रहा है लेकिन दीपावली पर लोग खरीदारी को लेकर काफी उत्साहित हैं।

ज्वेलर्स रमेश सोनी ने बताया कि कोरोना काल के बाद सराफा बाजार अब पटरी पर लौटने लगा है। दीपावली और शादी के सीजन को देखते हुए लोग सोने-चांदी के आभूषण खरीद रहे हैं।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!