जनपद के स्थानीय उत्पादकों को निर्यात करने हेतु दिया जायेगा बढ़ावा- जिलाधिकारी

दीनदयाल शास्त्री (ब्यूरो)

पीलीभीत। जिलाधिकारी पुलकित खरे की अध्यक्षता में जनपद के उत्पादों के एक्सपोर्ट को बढ़ावा देने के दृष्टिगत डिस्ट्रिक लेवल एक्सपोर्ट प्रोमोशन कमेटी की बैठक गांधी सभागार में सम्पन्न हुई। आयोजित बैठक में जनपद के स्थानीय उत्पादकों जैसे चावल, बाॅसुरी, फर्नीचर, मशरूम, चीनी, हल्दी आदि को सम्मिलित करते हुये निर्यात को प्रोत्साहन दिया जायेगा। आयोजित बैठक में जिलाधिकारी उपायुक्त उद्योग को निर्देशित करते हुये कहा कि जनपद में ऐसे उत्पादकों को चिन्हित किया जाये, जिनको निर्यात करने में सहयोग प्रदान करते हुये प्रोत्साहित किया जायेगा तथा सरकार द्वारा संचालित योजनाओं के अन्तर्गत आगामी दिनों में निर्यातको को लाभ प्रदान किया जाये। आयोजित बैठक में जिलाधिकारी द्वारा बाॅसुरी उद्योग को बढ़ावा देने हेतु जनपद में असम के डोलू बाॅस का स्थानीय स्तर उत्पादन करने हेतु आवश्यक दिशा निर्देश देते हुये कहा कि कृषि व वन विभाग से समन्वय स्थापित करते हुये उत्पादन हेतु आवश्यक परिस्थितियों के सम्बन्ध में कार्यवाही हेतु दिशा निर्देश दिये गये।
आयोजित बैठक में उपायुक्त उद्योग द्वारा अवगत कराया गया कि विपणन विपणन विकास सहायता योजनान्तर्गत पंजीकृत निर्यात इकाईयों द्वारा विदेशी मेलों मेलों में प्रतिभाग करने पर प्रति व्यक्ति वायुयान भाण्डा का 50 प्रतिशत अधिकतम 50,000/-स्टाल किराया का 60 प्रतिशत अधिकतम रू0 01.00 लाख मेलों में प्रचार प्रसार हेतु 60 प्रतिशत अधिकतम रू0 60000/-आई0एम0ओ0 प्रमाणीकरण पर हुये व्यय का 60 प्रतिशत अधिकतम रू0 01.00 लाख व विदेशी विक्रेताओं को भेजे गये फ्री ट्रेड सेम्पल पर 75 प्रतिशत अधिकतम रू0 01.20 लाख तक अनुदान उपलब्ध कराने की व्यवस्था की गई है। उत्तर प्रदेश निर्यात प्रोत्साहन विभाग द्वारा निर्यातको को विशिष्ट पहचान दिये जाने हेतु गोल्डन/सिल्वर कार्ड योजना प्रारम्भ की गई है। बैठक में जिलाधिकारी ने कहा कि योजना का मुख्य उद्देश्य निर्यातको में आपसी प्रतिस्पर्धा को विकसित कराना है। विभिन्न श्रेणियों में राज्य निर्यात पुरस्कार प्रदेश सरकार द्वारा पंजीकृत निर्यातको को उनको द्वारा दिये गये निर्यात के कुल मूल्य के आधार पर निर्यातको के उत्साह वर्धन किये जाने हेतु निर्गत किया जाता है। प्रतिवर्ष सम्बन्धित श्रेणी में कोई भी निर्यातक अपना आवेदन जिला उद्योग प्रोत्साहन तथा उद्यमिता विकास केन्द्र में प्रस्तुत कर सकते हैं।
बैठक में मुख्य विकास अधिकारी श्रीनिवास मिश्र, उप जिलाधिकारी योगेश कुमार, उपायुक्त उद्योग, परियोजना निदेशक अनिल कुमार, औद्योगिक प्राधिकरण के अध्यक्ष संजय अग्रवाल सहित अन्य उपस्थित रहे।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!