शासन की मंशा के अनुरूप योजनाओं को किया जाये संचालित- डीएम

दीनदयाल शास्त्री (ब्यूरो)

पीलीभीत । जिलाधिकारी पुलकित खरे की अध्यक्षता में विकास कार्यों की समीक्षा बैठक गांधी सभागार,में सम्पन्न हुई। विकास कार्यों की समीक्षा के दौरान गौशालाओं में संरक्षित पशुओं की संख्या बढ़ाने व गौ पालको को गौशाला से गाय प्रदान करने सम्बन्धी योजना में प्रगति न होने पर असंतोष व्यक्त करते हुये मुख्य पशु चिकित्साधिकारी का वेतन रोकने के कडे़ निर्देश देते हुये कहा कि अगली बैठक तक योजनाओं में प्रगति लाई जाये। समीक्षा के दौरान पीडब्लूडी द्वारा निर्माणाधीन सड़कों के कार्यों में तेजी लाने के निर्देश दिये। कृषि विभाग द्वारा किसान सम्मान निधि योजना के सम्बन्ध में उप निदेशक कृषि को निर्देशित करते हुये कहा कि प्रथम, द्वितीय व तृतीय किस्त पाने वाले किसानों की सूची तैयार की जाये तथा अवशेष किस्तों किस कारण लाभार्थियों को प्राप्त नही हुई का निस्तारण करना सुनिश्चित किया जाये। इसके साथ ही साथ प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना में अब बीमित कृषकों की सूचना उपलब्ध कराई जाये तथा किसान सहायकों के माध्यम से अधिक से अधिक योजना का लाभ दिया जाये। बैठक में अधिशासी अभियन्ता जल निगम अनुपस्थित पाए जाने पर इस माह का वेतन रोकने के निर्देश दिये गये।
बैठक में जिलाधिकारी द्वारा स्वास्थ्य विभाग के कार्यों की समीक्षा के दौरान आयुष्मान भारत योजना के गोल्डन कार्ड की प्रगति की समीक्षा की गई, इस दौरान मुख्य चिकित्साधिकारी को निर्देशित किया गया कि जिन ग्रामों में इस योजना से सम्बन्धित अधिक लाभार्थी हैं ऐसे 50 ग्रामों में अभियान चलाकर गोल्डन कार्ड जारी किये जाये। जिलाधिकारी द्वारा टीकाकरण के सम्बन्ध में निर्देशित करते हुये कहा कि ब्लाक स्तर पर प्रत्येक सप्ताह समीक्षा की जाये और शत-प्रतिशत टीकाकरण कराया जाना सुनिश्चित किया जाये।
बैठक के दौरान मनरेगा के कार्यों की समीक्षा के दौरान डीसी मनरेगा को निर्देशित किया गया कि समस्त ग्राम पंचायतों में मनरेगा द्वारा नियमित कार्य कराया जाये तथा विभागों द्वारा मनरेगा के तहत कराये जाने वाले कार्यों की समीक्षा के दौरान लघु सिंचाई द्वारा कार्य प्रारम्भ न करने पर असंतोष व्यक्त करते हुये तत्काल कार्य प्रारम्भ करने के निर्देश दिये गये। बैठक में जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी को निर्देशित करते हुये कहा कि विगत माह में खण्ड शिक्षा अधिकारियों द्वारा विद्यालयों की निरीक्षण संख्या कम होने के कारण नोटिस निर्गत करने के निर्देश दिये तथा निर्धारित मानकों के अनुरूप निरीक्षण करने हेतु निर्देशित किया गया।
जिलाधिकारी द्वारा रोजगार परक योजनाओं की समीक्षा के दौरान युवा स्वरोजगार योजना, प्रधानमंत्री रोजगार, मुख्यमंत्री ग्रामीण योजना के सम्बन्ध में मुख्य विकास अधिकारी को निर्देशित करते हुये कहा कि एलडीएम से समन्वय स्थापित करते हुये लक्ष्य के सापेक्ष पत्रावलियों की स्वीकृति प्रदान की जाये। बैठक में प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण, मुख्यमंत्री आवास योजना, खादय सुरक्षा, स्वयं सहायता समूह, कन्या सुमंगला योजना, वृद्धापेंशन, विधवा पेंशन, किसान पारदर्शी योजना, विकलांग पेशन, छात्रवृत्ति, प्रधानमंत्री आवास योजना नगरीय आदि योजनाओं की भी प्रगति समीक्षा करते हुये कन्या सुमंगला योजना के अन्तर्गत जिला विद्यालय निरीक्षक, मुख्य चिकित्साधिकारी व बेसिक शिक्षा अधिकारी को निर्देशित करते हुये कहा कि विद्यालयों में नये पंजीकरण करने वाली छात्राओं का पंजीयन कराया जाये तथा जन्म लेने वाली बच्चियों का टीकाकरण के साथ रजिस्ट्रेशन कराना सुनिश्चित किया जाये। शादी अनुदान योजना के सम्बन्ध में निर्देशित करते हुये कहा कि समस्त खण्ड विकास अधिकारी 05-05 सामूहिक शादियां सम्पन्न कराई जाये। दुग्ध विभाग द्वारा संचालित योजनाओं के अन्तर्गत बन्द पड़ी डेयरी समितियों को पुनः प्रारम्भ करने हेतु निर्देशित करते हुये कहा कि अगली बैठक तक कम से कम 05 समितियों को सक्रिया करना सुनिश्चित किया जाये।
बैठक में मुख्य विकास अधिकारी श्रीनिवास मिश्र, मुख्य चिकित्साधिकारी डाॅ0सीमा अग्रवाल, अतिरिक्त उप जिलाधिकारी योगेश कुमार, जिला विकास अधिकारी योगेन्द्र पाठक, परियोजना निदेशक अनिल कुमार, डीसी मनरेगा मृणाल सिंह, जिला विद्यालय निरीक्षक संत प्रकाश, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी सहित अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!