मानदेय न मिलने पर महिला सफाईकर्मियों ने किया प्रदर्शन

आनन्द कुमार चौबे (संवाददाता)

सोनभद्र । आज जिला अस्पताल में कार्यरत ठेका महिला सफाईकर्मियों ने अपनी विभिन्न मांगों को लेकर विरोध प्रदर्शन आवाज बुलंद की। वहीं जिला अस्पताल परिसर में 10 वर्षों से ठेका के माध्यम से साफ-सफाई का कार्य कर रही महिलाओं ने बताया कि हम लोगों की पिछली 3 माह से मजदूरी नहीं दी गई है। वहीं मजदूरी मांगने पर ठेकेदार द्वारा हम लोगों को धमकियाँ दी जाती हैं जबकि हम लोग कई वर्षों से जिला अस्पताल परिसर की साफ-सफाई सहित विभिन्न कार्य में कार्यरत हैं। हम लोगों की मजदूरी 540रुपये ही है जबकि महंगाई व परिवारिक खर्चों को लेकर जब भी हम लोगों द्वारा ठेकेदार के माध्यम से मजदूरी बढ़ाने की बात की जाती है तो उसके द्वारा गालियां व विभिन्न प्रकार की धमकियां दी जाती हैं। कोविड-19 के दौरान जब पूरा देश प्रदेश संकट के दौर से गुजर रहा था हम सभी सफाई महिला कर्मियों द्वारा ड्यूटी पीरियड पूरी ईमानदारी से किया गया व मरीजों की सेवा के साथ साफ-सफाई निरंतर कार्य किया गया जबकि कोई व्यवस्था ठेकेदार द्वारा हम महिलाओं को नहीं दिया गया। सरकार द्वारा भी कई दिशा-निर्देश आए गए मगर ठेकेदार द्वारा एक भी पहल किया गया।

इस दौरान कमली, मुनिया, मुन्नी, रीता, लीलावती, गोपाल, रजनी, कलावती, अवधेश, पांचुवी, सुनीता, श्याम सुंदर आदि महिलाओं ने बताया कि बढ़ती महंगाई को देखते हुए हम लोगों का मानदेय बढ़ाया जाए और पुराना मानदेय तत्काल उपलब्ध कराया जाए नहीं तो हम लोग कार्य बहिष्कार कर धरना प्रदर्शन करेंगे, जिसकी समस्त जिम्मेदारी ठेकेदार सहित जिला प्रशासन की होगी।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!