सम्पूर्ण समाधान दिवस : कुल आवेदन पत्र 289 मामलों में महज 34 का निस्तारण

शासन की मन्शा के अनुरूप जिले की चारो तहसीलों में ‘‘सम्पूर्ण समाधान दिवस‘‘ का आयोजन नवम्बर महीने के पहले मंगलवार को सम्पन्न हुआ। मंगलवार के मुख्य ‘‘सम्पूर्ण समाधान दिवस‘‘ में शासन के निर्देशानुसार तहसील दिवसों में सभी विभागों के अधिकारियों द्वारा नेमप्लेट प्रदर्शन के साथ स्टाल लगायें गये, जिसमें मौके पर मामले को निस्तारित करने के साथ ही ग्राम पंचायत स्तरीय व क्षेत्रीय अधिकारियों व कर्मचारियों की अधिकाधिक टीम बनाकर तहसील दिवस के बाद मौके पर जाकर ज्यादा से ज्यादा मामले निस्तारित करने का लक्ष्य था। जिलाधिकारी श्री एस0 राजलिंगम ने विभागीय अधिकारियों के लगे स्टालों का जायजा लेते हुए आवश्यक निर्देश दिया और फरियादियों के कतार के बीच जाकर दुःखहारियों के दुःख-दर्द को जाना।
जिलाधिकारी एस0 राजलिंगम व पुलिस अधीक्षक आशीष श्रीवास्तव, मुख्य विकास अधिकारी डॉ0 अमित पाल शर्मा ने मुख्य ‘‘सम्पूर्ण समाधान दिवस‘‘ राबर्ट्सगंज में मौजूद जिला स्तरीय अधिकारियों को निर्देशित किया है कि वे तहसील समाधान दिवसों व कार्यालय दिवसों में प्राप्त मुलाकाती जन शिकायतों का तत्काल गुणवत्ता पूर्ण निस्तारण करना सुनिश्चित करें, जिससे जिले स्तर पर कम से कम जन शिकायतें प्रस्तुत हों। जिलाधिकारी ने सभी कार्यालयाध्यक्षों का दायित्वबोध कराते हुए कहा कि वे संजीदगी के साथ जन समस्याओं का निस्तारण करें। उन्होंने लम्बित प्रकरणों की समीक्षा करते हुए तीन दिनों के अन्दर लम्बित प्रकरणों को निस्तारित करने के निर्देश सम्बन्धितों को दिया। जिलाधिकारी राजलिंगम ने मौके पर मौजूद जिला स्तरीय अधिकारियो को आवश्यक दिशा-निर्देश देते हुए कहा कि विकास विभाग से जुड़ी शिकायतें जैसे जन कल्याणकारी व विकास परक कार्यक्रमों पर विशेष ध्यान देते हुए समस्याओं के निदान के सम्बन्ध में समय से कार्यवाही करें। जिलाधिकारी श्री राजलिंगम, पुलिस अधीक्षक आशीष श्रीवास्तव, मुख्य विकास अधिकारी डॉ0 अमित पाल शर्मा, उप जिलाधिकारी सदर कृपा शंकर पाण्डेय ने इस अवसर पर, कुल 144 शिकायतें सुनते हुए मौके पर ही 07 मामलें निस्तारित हुए। 04 टीमें बनाकर भेजी गयी और टीमों द्वारा भी 04 मामले निस्तारित किये गये। इस प्रकार कुल 11 मामले निस्तारित हुए और बाकी 133 मामले एक सप्ताह के अन्दर निस्तारित करने के निर्देश सम्बन्धितों को दियें।
मुख्य तहसील ‘‘सम्पूर्ण समाधान दिवस‘‘ में जिलाधिकारी एस0 राजलिंगम, पुलिस अधीक्षक आशीष श्रीवास्तव, मुख्य विकास अधिकारी डॉ0 अमित पाल शर्मा, पुलिस क्षेत्राधिकारी श्री अभिनव यादव, तहसीलदार बी0के0 वर्मा, जिला विकास अधिकारी रामबाबू त्रिपाठी, जिला स्तरीय अधिकारीगण, आदि सम्बन्धितगण मौजूद रहें।

वहीं उप जिलाधिकारी रमेश कुमार की अध्यक्षता में ‘‘ सम्पूर्ण समाधान दिवस‘‘ दुद्धी में जनता के दुःख-दर्द को सुना गया। उप जिलाधिकारी दुद्धी श्री रमेश कुमार ने तहसील स्तरीय अधिकारियों का दायित्वबोध कराते हुए प्राप्त समस्याओं को मौके पर निस्तारित करने के निर्देश दिये। उन्होंने मौके पर 51 मामलों को सुनते हुए मौके पर 03 मामलों को निस्तारित किये। इसके बाद उन्होंने 06 टीमें बनाकर क्षेत्र में जाकर जमीनी हकीकत के मुताबिक निस्तारण के लिए अधिकारियों व कर्मचारियों के टीमों को भेजा। भेजी गयी टीमों द्वारा 06 मामलों का निस्तारण मौके पर जाकर किया गया, इस प्रकार ‘‘तहसील समाधान दिवस‘‘ के दिन दुद्धी तहसील प्रशासन द्वारा कुल 09 मामले निस्तारित किये गये। बाकी बचे 42 मामलों को औपचारिकताओं को पूरा करते हुए समयबद्ध तरीके से निस्तारित करने के निर्देश दिये गये। इस मौके पर उप जिलाधिकारी दुद्धी के अलावा पुलिस क्षेत्राधिकारी, तहसीलदार दुद्धी दिनेश चन्द्र आदि मौजूद रहें।

जबकि घोरावल सम्पूर्ण तहसील समाधान दिवस मेंं अपर पुलिस अधीक्षक आपरेशन डॉ0 राजीव कुमार सिंह व उप जिलाधिकारी घोरावल जैनेन्द्र सिंह की अध्यक्षता में सम्पन्न हुआ। अपर पुलिस अधीक्षक आपरेशन डॉ0 राजीव कुमार सिंह, उप जिलाधिकारी घोरावल ने 78 फरियादियों के दुःख-दर्द को सुना और मौके पर 06 मामले निस्तारित किये। उन्होंने 04 टीमें बनाकर क्षेत्रों में निस्तारण के लिए भेजी गयी और भेजी गयी टीमों द्वारा 04 प्रकरण निस्तारित किये गये। इस प्रकार सम्पूर्ण समाधान दिवस के दिन घोरावल मेंं कुल 10 प्रकरण निस्तारित किये गये, बाकी बचे 68 प्रकरणों को समयबद्ध तरीके से निस्तारित करने के निर्देश सम्बन्धितों को दिये। सम्पूर्ण समाधान दिवस घोरावल में अपर पुलिस अधीक्षक डॉ0 राजीव कुमार सिंह, उप जिलाधिकारी घोरावल श्री सिंह, पुलिस क्षेत्राधिकारी संजय वर्मा, तहसीलदार घोरावल विकास पाण्डेय आदि मौजूद रहें।

और अपर जिलाधिकारी योगेन्द्र बहादुर सिंह की अध्यक्षता में सम्पूर्ण समाधान दिवस ओबरा में सम्पन्न हुआ। इस मौके पर अपर जिलाधिकारी योगेन्द्र बहादुर सिंह, उप जिलाधिकारी प्रकाश चन्द्र ने जनता के दुःख-दर्द को सुना। अपर जिलाधिकारी श्री योगेन्द्र बहादुर सिंह, उप जिलाधिकारी प्रकाश चन्द्र व तहसीलदार सुनील कुमार ने मौके पर मौजूद तहसील स्तरीय अधिकारियों का दायित्वबोध कराते हुए सम्बन्धित समस्याओं को मौके पर निस्तारित करने के निर्देश दिये। उन्होंने मौके पर 16 मामलों को सुनते हुए मौके पर 02 मामलों को निस्तारित किये। इसके बाद उप जिलाधिकारी ने 02 टीम बनाकर क्षेत्र में जाकर जमीनी हकीकत के मुताबिक निस्तारण के लिए अधिकारियों व कर्मचारियों के टीमों को भेजा। भेजी गयी टीमों द्वारा 02 मामला का निस्तारण मौके पर जाकर किया गया, इस प्रकार सम्पूर्ण तहसील दिवस के दिन ओबरा तहसील प्रशासन द्वारा कुल 04 मामले निस्तारित किये गये। बाकी बचे 12 मामलों को औपचारिकताओं को पूरा करते हुए समयबद्ध तरीके से निस्तारित करने के निर्देष दिये गये।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!