पंचायत भवनों के निर्माण में बाधा पहुंचाने वालों के खिलाफ होगी कार्यवाही : डीएम

आनन्द कुमार चौबे (संवददाता)

● जिला स्वच्छ भारत मिशन मैनेजमेंट कमेटी की बैठक सम्पन्न

● बैठक के दौरान जिलाधिकारी ने कसे अधिकारियों के पेंच

● डीएम ने शौचालय निर्माण में रुचि न लेने वाले पूर्व तथा वर्तमान सहायक विकास अधिकारी म्योरपुर, बभनी तथा करमा के खिलाफ कार्यवाही का दिया निर्देश

● पंचायत भवनों का निर्माण शुरू नहीं करा रहे सहायक विकास अधिकारियों के खिलाफ चार्जशीट तैयार करने का दिया निर्देश

● लापरवाह ग्राम स्तरीय अधिकारियों के खिलाफ होगी कार्यवाही

सोनभद्र । स्वच्छ भारत मिशन ग्रामीण के अन्तर्गत जिला स्वच्छ भारत मिशन मैनेजमेन्ट कमेटी की बैठक सोमवार को जिलाधिकारी एस0 राजलिंगम की अध्यक्षता में सम्पन्न हुई। बैठक में पिछली बैठक की पुष्टि सामुदायिक शौचालय निर्माण की प्रगति का प्रस्तुतीकरण और अनुमोदन, विशेष साफ-सफाई अभियान का प्रस्तुतीकरण और अनुमोदन स्वच्छ भारत मिशन फेज-2 का प्रस्तुतीकरण एवं अनुमोदन, शौचालयों की कोडिंग, स्वच्छ भारत मिशन ग्रामीण के अन्तर्गत आई0ई0सी0 से कराये जाने वाले कार्य ओडीएफ सेल का पुर्नगठन, स्वच्छ भारत मिशन ग्रामीण के अन्तर्गत तैनात मैनपावर के मानदेय के भुगतान आदि बिन्दुओं की समीक्षा की गयी और आवश्यक अनुमोदन की कार्यवाही भी की गयी।

जिलाधिकारी एस0 राजलिंगम ने समीक्षा के दौरान शौचालय का पैसा प्राप्त होने के बावजूद शौचालय न बनवाने वाले सहायक विकास अधिकारी पंचायत म्योरपुर व पूर्व में तैनात सहायक विकास अधिकारी म्योरपुर के खिलाफ कार्यवाही के लिए निर्देश दिए। इसी प्रकार से लापरवाह सहायक विकास अधिकारी पंचायत प्रभारी बभनी व करमा के लिए कार्यवाही करने के निर्देश दिये। जिलाधिकारी ने कहा कि जो सहायक विकास अधिकारी पंचायत भवनों का निर्माण शुरू नहीं करा रहे हैं, उनके खिलाफ चार्जशीट तैयार की जाय। उन्होंने कहा कि पंचायत भवनों के निर्माण में बाधा पहुंचाने वालों के खिलाफ भी कार्यवाही की जाय। पंचायत विभाग के कार्मिक फील्ड में रूककर लम्बित कार्यों को पूरा करायें। उन्होंने कहा कि धनराशि होने के बावजूद शौचालय न बनवाना और जब जॉच शुरू हुई, तो छुट्टी पर भागने वाले लापरवाह ग्राम स्तरीय अधिकारियों के खिलाफ कार्यवाही की जाय।

उन्होंने कहा कि ग्राम निधि से लाभार्थी के खातों में पैसा समय से ट्रान्सफर न करना गलत है। पंचायत राज विभाग एक माह के अन्दर सभी अधूरे कार्यों को पूरा करें।

बैठक में जिलाधिकारी एस0 राजलिंगम के अलावा मुख्य विकास अधिकारी डॉ0 अमित पालशर्मा, जिला पंचायत राज अधिकारी विशाल सिंह, अधिशासी अभियन्ता जल निगम फणीन्द्र राय, जिला कार्यक्रम अधिकारी अजीत सिंह, जिला प्रोबेशनप अधिकारी डॉ0 अमरेन्द्र पौत्स्सायन, जिला स्तरीय अधिकारीगण, सहायक विकास अधिकारी पंचायतगण, ग्राम प्रधानगण आदि मौजूद रहे।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!