विधान परिषद चुनाव : एक हजार से अधिक मतदाता की स्थिति में बनाये जाएंगे सहायक मतदेय स्थल

आनन्द कुमार चौबे (संवाददाता)

सोनभद्र । उप जिला निर्वाचन अधिकारी/अपर जिलाधिकारी योगेन्द्र बहादुर सिंह की अध्यक्षता में उत्तर प्रदेश विधान परिषद निर्वाचन के लिए खण्ड स्नातक एवं खण्ड शिक्षक निर्वाचन क्षेत्रों से द्विवार्षिक निर्वाचन के लिए कोविड-19 के मद्देनजर मतदाताओं की संख्या एक हजार से अधिक होने पर अतिरिक्त रूप से सहायक मतदेय स्थल बनाये जाने के सम्बन्ध में राजनैतिक दलों के पदाधिकारियों के साथ समन्वय बैठक सम्पन्न हुई।

बैठक में उप जिला निर्वाचन अधिकारी/अपर जिलाधिकारी योगेन्द्र बहादुर सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि भारत निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार कोविड-19 के मद्देनजर वाराणसी खण्ड स्नातक और खण्ड शिक्षक निर्वाचन क्षेत्रों के द्विवार्षिक निर्वाचन के लिए बनाये जाने वाले मतदेय स्थलों पर मतदाताओं की अधिकतम सीमा एक हजार तक यानी एक मतदेय स्थल पर ज्यादा से ज्यादा एक हजार तक की संख्या सीमित रहेगी यानी एक हजार से ऊपर वाले मतदेय स्थलों पर सहायक मतदेय स्थल स्थापित किये जायेंगें। उन्होंने बताया कि सहायक मतदेय स्थलों पर नया नम्बर आवंटित नहीं किया जायेगा, बल्कि मतदेय स्थल को उदाहरण के रूप में जैसे एक था और वहां पर दो मतदेय स्थल होने हैं, उनमें ‘अ‘ ’ब’ ’स’ का नम्बर दिया जायेगा। उन्होंने बताया कि शिक्षक निर्वाचन के लिए जो पहले से मतदेय स्थल स्थापित हैं, उन मतदेय स्थलों में मतदाताओं की संख्या एक हजार से कम है, इसलिए खण्ड शिक्षक चुनाव के मतदेय स्थलों को बढ़ाने का कोई औचित्य नहीं हैं, वे मतदेय स्थल नौ के नौ ही मतदेय स्थल जिले में रहेंगें। उन्होंने बताया कि स्नातक निर्वाचन क्षेत्रों के पहले से ही जो मतदेय स्थल 15 स्थापित थे, उसमें पांच मतदेय स्थल मात्र एक हजार मतदाता सीमा के अन्तर्गत हैं, बकाया दस मतदेय स्थल जैसे विकास खण्ड घोरावल-1 व 2, राजा शारदा महेश इण्टर कालेज राबर्ट्सगंज के तीन मतदेय स्थल, विकास खण्ड चतरा का मतदेय स्थल, विकास खण्ड चोपन का मतदेय स्थल, ओबरा इण्टर कालेज ओबरा, विकास खण्ड दुद्धी मतदेय स्थल, उच्चतर माध्यमिक विद्यालय रेनुकूट मतदेय स्थल पर सहायक मतदेय स्थल बढ़ायें जायेगें।

इस बैठक में उप जिला निर्वाचन/अपर जिलाधिकारी योगेन्द्र बहादुर सिंह, उप जिलाधिकारी सदर डॉ0 कृपा शंकर पाण्डेय, दुद्धी रमेश कुमार, ओबरा प्रकाश चन्द्र, राजनैतिक दलों के पदाधिकारीगण, राजस्व विभाग के पदाधिकारीगण, सरफराज अहमद, राजकुमार सहित अन्य सम्बन्धितगण मौजूद रहे।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!