रेलवे दोहरीकरण के कार्यों में स्थानीय खनिज सम्पदा लगाए जाने की शिकायत पर पहुंचे खनन निरीक्षक, की जांच

एस प्रसाद (संवाददाता)

म्योरपुर । रेलवे दोहरीकरण में स्थानीय खनिज सम्पदा का दोहन किये जाने की शिकायत के खनन विभाग सक्रिय नजर आने लगा है।
पिछले कुछ दिनों पूर्व क्षेत्रीय भ्रमण के दौरान भाजपा राष्ट्रीय कारिणी सदस्य अल्पसंख्यक मोर्चा के सदस्य चांद प्रकाश जैन को स्थानीय लोगों ने बताया कि रेलवे दोहरी के कार्य में बड़े पैमाने पर खनिज संपदा निकल रहा है जिसे ठेकेदार गोलमाल कर कुछ उसी में लगाकर और कुछ बाहर शहर में भेजकर काली कमाई कर राजस्व की क्षति पहुंचा रहा है। जिसकी शिकायत के बाद गत दिन पूर्व खनन विभाग के एक सर्वेयर ने आकर मौके पर जांच की थी लेकिन जांच के बाद भी कोई हल नहीं निकला। बताया तो यह भी जा रहा है कि उक्त सर्वेयर अपनी रिपोर्टिंग में बोल्डर की जगह मोरंग दिखाया था ।

जब इसकी जानकारी चांद प्रकाश जैन को हुई तो उन्होंने फिर से खनन विभाग के अधिकारी से बात की और दोबारा जांच की मांग की। जिसके क्रम में रविवार को खनन निरीक्षक जीके दत्ता ने मौके पहुंचकर म्योरपुर रोड रेलवे स्टेशन के पास दोहरीकरण कार्य का जांच किया, जहां बड़े पैमाने पर खनिज सपंदा बोल्डर/गिट्टी पाया गया।
बताया जा रहा है कि जांच में शिकायत सही पाया गया ।
खनन निरीक्षक जीके दत्ता ने कहा कि दोहरीकरण कार्य में खनिज संपदा पाया गया है। उन्होंने बताया कि कार्य में जो भी खनिज निकल रहा है उसे उसी कार्य में लगाया जा सकता है लेकिन उसका रॉयल्टी सम्बंधित ठेकेदार जमा करेगा। उससे पहले निकले खनिज की नापी होनी चाहिए । उन्होंने खनन सर्ववेयर को कल से दोहरीकरण कार्य मे निकले पूरे खनिज सम्पदा की नापी कर जल्द रिपोर्ट देने हेतु निर्देशित किया।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!