मनरेगा से कराये गये कार्यों के बकाया मजदूरी को जल्द से जल्द करें अदा : सांसद

आनन्द कुमार चौबे (संवाददाता)

सोनभद्र । आज सांसद पकौड़ी लाल की अध्यक्षता में “जिला विकास समन्वय और निगरानी समिति” की बैठक कलेक्ट्रेट मीटिंग हाल में सम्पन्न हुई।

इस दौरान सांसद पकौड़ी लाल कोल ने कहा कि “भारत सरकार व प्रदेश सरकार की मंशा के अनुरूप अधिकारीगण जनप्रतिनिधियों से समन्वय स्थापित कर जिले में चलायी जा रही विकास परक कार्यक्रमों व जन कल्याणकारी योजनाओं को पूरी ईमानदारी के साथ पारदर्शिता व गुणवत्ता पूर्ण कार्यों को पूरा कराते हुए जिले का चतुर्दिक विकास करायें। आपस में मिल-जुलकर रहें और खुशी-खुशी सरकार की योजनाओें को जनता तक पहुंचायें।”

अध्यक्ष जिला विकास समन्वय और निगरानी समिति/सांसद पकौड़ी लाल कोल ने अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश देते हुए कहा कि अधिकारीगण अपने-अपने विभागों द्वारा संचालित विकास कार्यक्रमों और जन कल्याणकारी योजनाओं की मुकम्मल सूची जन प्रतिनिधियों के साथ ही “जिला विकास समन्वय और निगरानी समिति” के सदस्यों को भी मुहैया करायें। सांसद ने कहा कि प्रधानमंत्री के नये भारत निर्माण के लिए जनप्रतिनिधि व अधिकारीगण आपसी ताल-मेल के साथ जरूरी योजनाओं को लोगों तक पहुंचायें। जिले के विकास के लिए भारत सरकार व प्रदेश सरकार काफी कोशिश कर रही है। जिले में धन की कोई कमी नहीं है, सिर्फ जरूरत है सभी सम्बन्धित अधिकारियों/कर्मचारियों को जन प्रतिनिधियों से समन्वय स्थापित कर काफी जरूरी जरूरत वाले कामों/योजनाओें को चयन कर परम आवश्यक कार्यों को पहले पूरा किया जाना। उन्होंने समन्वय के साथ विकास कार्यक्रमों व जन कल्याणकारी योजनाओं को जमीनी हकीकत के मुताबिक अमली जामा देने की जहॉ हिदायत दी, वहीं जिलाधिकारी के प्रयासों की तारीफ करते हुए सम्बन्धित अधिकारियों को दायित्वबोध कराया। उन्होंने कहा कि अधिकारीगण/कार्यदायी संस्थाएं पूरी ईमानदारी, पारदर्शिता, समयबद्धता के साथ ही गुणवत्ता पूर्ण कार्य करें।

सांसद पकौड़ी लाल ने “जिला विकास समन्वय और निगरानी समिति” की अध्यक्षता करते हुए महात्मा गॉधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारण्टी अधिनियम के तहत मनरेगा के तहत कराये गये कार्यों की समीक्षा करते हुए स्थानीय स्तर पर ज्यादा से ज्यादा रोजगार दिलाने व पूर्व में मनरेगा के तहत कराये गये कार्यों के बकाये मजदूरी को अदा कराने के निर्देश दिया।

उन्होंने शहरी व ग्रामीण आवास योजना, मनरेगा, दीन दयाल अन्त्योदय योजना, एनआएलएम, ग्रामीण कौशल्य योजना, प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना, स्वच्छ भारत अभियान ग्रामीण व शहरी, राष्ट्रीय सामाजिक सहायता कार्यक्रम, राष्ट्रीय ग्रामीण पेयजल कार्यक्रम, प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना, डिजिटल इण्डिया भू-रिकार्ड आधुनीकीकरण कार्यक्रम, प्रधान मंत्री फसल बीमा योजना, सर्व शिक्षा अभियान, राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन, समेकित बाल विकास कार्यक्रम, प्रधानमंत्री उज्जवला योजना, प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना, दीनदयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना, श्याम प्रसाद मुखर्जी अर्बन मिशन, राष्ट्रीय विरासत शहर विकास और वृद्धि योजना, अटल मिशन फार रेजुवेनेशन एण्ड अर्बन ट्रान्सफार्मेशन, समेकित विद्युत विकास योजना, राष्ट्रीय कृषि विकास योजना, परम्परागत कृषि विकास योजना, मृदा स्वास्थ्य कार्ड, ई-राष्ट्रीय बाजार, त्वरित सिंचाई लाभ कार्यक्रम, प्रधानमंत्री आदर्श ग्राम योजना, प्रधानमंत्री रोजगार कार्यक्रम, सुगम्य भारत अभियान, बेटी-बचाओ बेटी-पढ़ाओ, राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा कार्यक्रम आदि की समीक्षा करते हुए सम्बन्धित अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश देते हुए सौहार्द पूर्ण माहौल में रचनात्मक तथ्य जनप्रतिनिधियों “जिला विकास समन्वय और निगरानी समिति” के सदस्यों आदि द्वारा पेश किये जाने पर संतोष व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि अधिकारीगण व कार्यदायी संस्थाएं अच्छी सोच और अच्छी माहौल मेंं जन प्रतिनिधियों से समन्वय के साथ जिले को आदर्श रूप देने की पूरी कोशिश करें।

इस मौके पर अध्यक्ष जिला पंचायत अमरेश सिंह पटेल, उपाध्यक्ष काशी प्रान्त भाजपा रमेश मिश्रा, विधायक सदर भूपेश चौबे, विधायक ओबरा संजीव कुमार गौड़, विधायक दुद्धी हरिराम चेरो, जिलाध्यक्ष अपना दल सत्यनारायन सिंह पटेल, सांसद प्रतिनिधि कुलदीप पटेल, वेद दूबे, अरूण, चेयरमैन दिग्विजय सिंह, निशा सिंह, ब्लाक प्रमुख प्रवीण सिंह, अशोक सिंह आदि ने जमीनी जरूरत के मुताबिक जिले में विकास परक व जन कल्याणकारी योजनाओं को मूर्त रूप देने पर जोर दिया।

विधायक राबर्ट्सगंज भूपेश चौबे ने श्याम प्रसाद मुखर्जी रूर्बन मिशन की कार्यप्रगति खराब पाये जाने पर कार्यवाही करने के लिए कहा। बैठक में जिले की बड़ी ग्राम पंचायतों को सामान्य यानी छोटे करने पर विचार किया गया। खतौनी के तरफ घरौनी के भी काम जल्द से जल्द पूरा करने के निर्देश दिये गये। जिले में ट्रान्सफार्मर मरम्मत के लिए दक्षिणांचल में एक और वर्कशॉप जल्द से जल्द खोलने पर चर्चा हुई।

वहीं “जिला विकास समन्वय और निगरानी समिति” की बैठक में सांसद राबर्ट्सगंज पकौड़ी लाल कोल व अन्य जनप्रतिनिधियों द्वारा राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के महिलाओं समूहों को प्रेरणा आजीविका टूल बैंक स्वीकृति-पत्र वितरित करते हुए उज्जवल भविष्य की कामना की।

सांसद ने पराली नहीं जलाने के लिए जनजागरूकता के लिए प्रचार वाहन को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया।

बैठक में जिलाधिकारी एस0 राजलिंगम, मुख्य विकास अधिकारी डॉ0 अमित पाल शर्मा, अपर जिलाधिकारी योगेन्द्र बहादुर सिंह, जिला विकास अधिकारी रामबाबू त्रिपाठी, मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ0 एस0के0 उपाध्याय, पीडी आर0 एस0 मौर्या, डीसीएलआरएल टी0बी0 सिंह, मनरेगा ए0के0 जौहरी, उपायुक्त मनरेगा, जिला स्तरीय अधिकारीगण सहित सम्बन्धित अधिकारी/कर्मचारीगण आदि मौजूद रहे।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!