प्रधानी के लिए पड़ने लगे सियासत के ‘बीज’

मनोहर कुमार (संवाददाता)

– भावी दावेदार दे रहे तैयारियों को पंख
– युवाओं में प्रधान बनने की बड़ रही ललक

डीडीयू नगर। प्रदेश में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव का शंखनाद नहीं हुआ।समय से चुनाव की संभावना भी कम है।इसके बाद भी चुनावी सरगर्मी गांवों में हिलोरे मार रही हैं। कोरोना संक्रमण काल के बीच गांवों में प्रधानी के लिए सियासत के ‘ बीज ‘ पड़ने लगे हैं।भावी दावेदार अपनी योग्यता के साथ शुभकामनाओं का संदेश देकर मैदान में आने की अटकलों को जन्म दे रहे हैं। युवाओं में प्रधान बनने की ललक बड़ रही है।गांवों में धान की कटाई के साथ ही प्रधानी की फसल की तैयारी भी हो रही है। इसके लिए बीजारोपण हो रहा है।
इस समय कोरोना काल चल रहा है।देश में संक्रमण केस की संख्या अस्सी लाख का आंकड़ा पार कर गया है। लॉक डाउन के बाद अनलॉक तेजी से चल रहा है।बन्द सारी गतिविधियां फिर रास्ते पर हैं।राजनीतिक गतिविधियों के साथ बिहार में विधान सभा चुनाव हो रहे हैं।प्रदेश में अब त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव कराने के तैयारी हो रही है।भले ही चुनाव की तिथि की घोषणा नहीं हुई है। लेकिन चुनाव का बाजार अब गरम हो रहा है।सियासत तेजी से रंग बदल रही है।गांवों में राजनीतक पारा शनै शनै आगे बड़ रहे हैं। ग्राम प्रधान से लेकर जिले का प्रथम नागरिक बनने का ख्वाब देखने वाले दावेदारी की मजबूत दीवार खड़ी कर रहे हैं।अभी से टिकट पाने लिए पैरोकारी में लग गए हैं।गांवों में इस समय बधाई संदेश देने वाले बोर्ड लगाए जा रहे हैं।जिसमें विभिन्न पर्वों व त्योहार की शुभकामना के साथ लोगों के उज्जवल भविष्य की कामना की जा रही है।चुनाव लडने वाले दावेदार अपनी पृषठभूमि को भी प्रकाशित कर रहे हैं। युवाओं में चुनाव लडने की ललक बड रही है।वह तैयारियों में भी लगे हैं। गांव में इस समय धान कि फसल तैयार हो रही है।किसान लहलहा रही फसल को देख प्रफुल्लित हैं तो चुनाव लडने वाले अपनी गुणा गणित भी लगा रहे हैं। अब चुनाव की घोषणा होने के साथ राजनीितक शह मात का खेल भी शुरू होगा।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!