आयुक्त वाराणसी व जनपद के नोडल अधिकारी ने कोविड-19 एवं संचारी रोग नियंत्रण, स्वच्छता अभियान, पेयजल की व्यवस्थाओं का किया निरीक्षण

अबुलकैश डब्बल ब्यूरो

चंदौली । आयुक्त वाराणसी मंडल वाराणसी एवं जनपद के नोडल अधिकारी दीपक अग्रवाल का जनपद भ्रमण कार्यक्रम संपन्न हुआ। निरीक्षण के दौरान नगर पालिका परिषद, पं0 दीनदयाल उपाध्याय नगर के वार्ड नंबर-21 (सुभाष नगर) में ,कोविड-19 एवं संचारी रोग नियंत्रण, स्वच्छता अभियान, पेयजल की व्यवस्थाओं का निरीक्षण कर चल रहे कार्यों का जायजा लिया।
आयुक्त द्वारा सुभाष नगर के वार्ड का स्थलीय कर साफ-सफाई व्यवस्था का जायजा लिया गया साथ ही निर्देशित करते हुए कहा कि सफाई का कार्य सुचारू रूप से चलता रहे कोविड-19 संक्रमण को देखते हुए सभी वार्ड में सैनिटाइज व फॉगिंग का कार्य चलता रहे ताकि संक्रमण के खतरा को बढ़ने से रोका जा सके। इसके उपरांत अमृत सैप पेयजल योजना फेज-2 का निरीक्षण कर निर्माण कार्य की गुणवत्ता को परखा साथ ही निर्देश देते हुए कहा कि तय मानक में कार्य को पूरा कर संबंधित विभाग को सुपुर्द किया जाय। साथ ही अधिक से अधिक लोगों को नये कनेक्शन देकर पेयजल योजना से लाभान्वित किया जाय।
ततपश्चात आयुक्त द्वारा पड़ाव स्थित जलीलपुर गांव का निरीक्षण एवं बैठक कर संबंधित अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि सरकार द्वारा चलाए जा रहे महत्वाकांक्षी योजनाओं से पात्र लोगों को लाभान्वित किया जाय। आयुष्मान भारत योजना के तहत शत-प्रतिशत गोल्डन कार्ड अवश्य बनाए जाने हैं इसके लिए कत्तई लापरवाही न हो। कैंप लगाकर प्रत्येक गांव में अवशेष लाभार्थियों का तत्काल गोल्डन कार्ड बनवाया जाना सुनिश्चित करें, वही ग्राम प्रधान से कहा कि गांव में मुनादी कराकर आयुष्मान योजना का गोल्डन कार्ड एक नवंबर तक शत-प्रतिशत लाभार्थियों को लाभान्वित किया जाना है इसके लिए ग्राम प्रधान द्वारा सक्रिय रुप से सहयोग करना होगा ताकि पात्र परिवार इस योजना का लाभ लेकर अपने स्वास्थ्य का इलाज करा सके। मुख्य चिकित्साधिकारी को निर्देशित करते हुए कहा कि निर्धारित तिथि के अनुसार सभी बच्चों का टीकाकरण सुनिश्चित हो इसके लिए आशा एवं चिकित्सकों को निर्देशित कर दिया जाए, लापरवाही किसी भी प्रकार की संज्ञान में न आए नहीं तो संबंधित के विरुद्ध विभागीय कार्यवाही सुनिश्चित की जाएगी। स्पष्ट रिकॉर्ड स्वास्थ्य विभाग द्वारा प्रस्तुत करने पर गहरी नाराजगी व्यक्ति की। साथ ही आगे से सही/स्पष्ट आंकड़े प्रस्तुत किया जाय। कुपोषित बच्चों के स्वास्थ्य से संबंधित चल रहे उपचार का जिला कार्यक्रम अधिकारी से जानकारी ली। साथ ही निर्देशित करते हुए कहां की एक भी बच्चा कुपोषित न रहे इसके लिए आंगनबाड़ी, आशा व चिकित्सक अपनी भूमिका जिम्मेदारी से निभाये। साथ ही साथ आंगनबाड़ी केंद्रों को प्ले स्कूल के रूप में विकसित करने व बच्चों को शुरुआती ज्ञान दिए जाने के निर्देश दिए। प्राथमिक स्कूल के बच्चों को कोविड-19 के चलते ऑनलाइन/ऑफलाइन के माध्यम से निरंतर पढ़ाई कराने के निर्देश जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी को दिए। कोई भी बच्चा पढ़ाई से वंचित न रहे इसके लिए लगातार मॉनीटरिंग करने की आवश्यकता है। ग्राम पंचायत में कोई महिला स्वयं सहायता समूह गठित न होने की जानकारी पर एक सप्ताह के अंदर गठन करने के निर्देश संबंधित अधिकारी को दिए। ग्राम पंचायत में पात्र व्यक्ति स्वच्छ भारत अभियान योजना के तहत शौचालय से वंचित न रह पाए इसके लिए जिला पंचायत राज अधिकारी को निर्देशित किया। अंत्योदय कार्ड राशन वितरण की जानकारी को लेकर पारदर्शी तरीके से राशन वितरित सुनिश्चित करने के निर्देश जिला पूर्ति अधिकारी को दिया गया। कांटेक्ट टेस्टिंग वालों वाले व्यक्ति का आरटीपीसीआर टेस्ट अवश्य कराएं अधिक से अधिक सर्विलांस जारी रखें सतर्कता और सजगता अत्यंत आवश्यक है। गंभीर रोगों, डायबिटीज एवं अन्य रोगियों पर विशेष ध्यान रखने की आवश्यकता है। पीएम स्व निधि योजना के अंतर्गत लंबित आवेदनों को गहनता पूर्वक जांच कर लाभार्थियों को धनराशि दिलाने के निर्देश दिए। बैठक के अंत में जिलाधिकारी ने सभी अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि मंडलायुक्त द्वारा बैठक व निरीक्षण के दौरान जो निर्देश दिए गए हैं उसका शत-प्रतिशत पालन सुनिश्चित किया जाएगा। निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी नवनीत सिंह चहल, मुख्य विकास अधिकारी डॉ अभय कुमार श्रीवास्तव, मुख्य चिकित्साधिकारी, जिला विकास अधिकारी, जिला पंचायत राज अधिकारी, जिला कार्यक्रम बाल विकास एवं पुष्टाहार, अधिशासी अभियंता जल निगम, अधिशासी अधिकारी पंडित दीनदयाल उपाध्याय नगर एवं चन्दौली/सैयदराजा, डीसी मनरेगा, डीसी एनआरएलएम सहित अन्य संबंधित अधिकारी उपस्थित रहे।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!