चोपन में सोशल डिस्टेंसिंग के साथ हुआ रावण के पुतले का दहन

घनश्याम पाण्डेय / विनीत शर्मा ( संवाददाता )

चोपन। रेलवे रामलीला मैदान में पिछले के दशकों से चली आ रही रामलीला का इस बार कोविड-19 महामारी के चलते दशहरे के दिन जलने वाले रावण के पुतले का दहन इस बार काफी फीका रहा । लेकिन बावजूद इसके रेलवे रामलीला समिति ने दशहरा के दिन रावण के पुतले को दहन करने की परंपरा जारी रखते हुए इस बार रावण का पुतला लगभग 30 फिट का ही बनाया गया । जबकि इसके पूर्व लगभग 75 फिट का रावण बनाया जाता था जो लोगो के लिए आकर्षक का केंद्र रहता था वही रावण दहन के पूर्व 4 बजे शाम से ही रामलीला मंच पर पंडित शितलेश मिश्र के द्वारा संगीत मय रामकथा का आयोजन किया गया साथ ही बीच बीच मे सुंदर मनमोहक झांकिया निकाली गई। गौरतलब है कि चोपन का दशहरा पर्व पूरे जनपद में काफी मशहूर है क्योंकि यहाँ का रावण का पुतला विशालकाय और स्वचलित बनाया जाता है जिसके वजह से रावण दहन देखने के लिए नगर सहित अस पास के ग्रामीण क्षेत्रों से हजारों हजार की संख्या में पहुचती थी साथ ही हर छोटे बड़े दुकानदार इस मेले का भरपूर लाभ भी उठाते थे किंतु इस बार कोरोना महामारी के चलते आयोजनों पर रोक लग जाने के वजह से काफी मायूस रहे इस मौके पर रामलीला समिति के अध्यक्ष सुनील सिंह ने आये हुए समस्त श्रद्धालुओं का आभार व्यक्त किया व इस आयोजन को सफल बनाने में योगदान दिए समस्त कार्यकर्ताओ की भी सराहना की।

वही इस मौके पर चेयरमैन प्रतिनिधि उष्मान अली, संजय जैन, सत्यप्रकाश तिवारी, तीर्थराज शुक्ला, हैदर खान, मनोज सिंह, धर्मेश जैन, संजय चेतन, राजेश भारती, सुशील पांडेय, अनिल जायसवाल आदि मौजूद रहे । वही सुरक्षा व्यवस्था को लेकर पुलिस भी मौजूद रही।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!