ब्लाक सभागार पूरनपुर में ग्राम प्रधानों के साथ नारी सशक्तीकरण व पराली केे सम्बन्ध में समीक्षा बैठक सम्पन्न

दीनदयाल शास्त्री (ब्यूरो)

पीलीभीत। विधायक पूरनपुर बाबूराम पासवान व जिलाधिकारी पुलकित खरे द्वारा ब्लाक सभागार पूरनपुर में ग्राम प्रधानों के साथ नारी सशक्तीकरण व पराली जलाने के सम्बन्ध में समीक्षा बैठक की गई। आयोजित बैठक में जिलाधिकारी द्वारा समस्त ग्राम प्रधानों मिशन शक्ति के सम्बन्ध में जानकारी देते हुये कहा कि सरकार द्वारा महिलाओं की सुरक्षा, सम्मान व स्वालम्बन हेतु यह अभियान चलाया जा रहा है। जिसके अन्तर्गत सरकार द्वारा संचालित अधिक से अधिक योजनाओं में महिलाओं की सहभागिता सुनिश्चित की जायेगी। उन्होंने कहा कि सभी ग्राम प्रधान अपने ग्रामों की महिलाओं को उज्जवल योजना, सौभाग्य योजना, बेटी बचाओ बेटी पढाओं, कन्या सुमंगला योजना जैसी योजनाओं का अधिक से अधिक लाभ प्रदान करें। उन्होंने कहा कि कन्या सुमंगला योजना के तहत बेटियों के जन्म से लेकर उच्च शिक्षा तक लाभ प्रदान किया जाता है। अधिक से अधिक बेटियों का आवेदन कर लाभ प्रदान करें। उन्होंने कहा कि अपनी ग्राम पंचायतों में महिलाओं की जागरूकता हेतु महिला हेल्प लाइन नम्बर 181, वूमेन पाॅवर 1090, चाइल्ड हेल्प लाइन नं0- 1098 व एम्बुलेंस 102 व अन्य नम्बरों का अंकन कराये और महिलाओं को भी बताये।
उन्होंने कहा कि ग्राम प्रधान गांव के विकास की महत्वपूर्ण कड़ी हैं उन्होंने कहा कि अपने ग्राम में अच्छा शौचालय व पचायत भवन का निर्माण करें और पंचायत भवन को सचिवालय के रूप में विकसित करते हुये वहां प्रतिदिन ग्राम प्रधान बैठकर जन सुनवाई कर सकते हैं साथ ही साथ सचिवालय में जाति प्रमाण, निवास, आय व अन्य सुविधाओं की व्यवस्था सुनिश्चित की जाये। सभी पंचायतों भवनों इण्टरनेट से जोडकर आधुनिक रूप प्रदान करते हुये ग्रामीणों का समस्त कार्य घर बैठकर करने की सुविधा प्रदान की जाये। उन्होंने कहा कि गौशाला का निर्माण अपनी ग्राम पंचायतों में जहां पर चारागाह हेतु भूमि उपलब्ध हो उसकी जानकारी सम्बन्धित लेखपाल को अवश्य दे जिससे अधिक से अधिक गौशालाओं का निर्माण कर गौ वंशों को संरक्षित किया जा सके। ग्राम प्रधानों को जागरूक करते हुये जिलाधिकारी द्वारा अपील की गई कि अपनी ग्राम पंचायत के किसानों भाईयों से खेत में पराली न जलाने हेतु जागरूक करें व पराली को नष्ट करने हेतु वेस्ट डिकम्पोजर का प्रयोग कर जैविक खाद के रूप में प्रयोग करे। किसानों को बताया जाये कि पराली को पशुओं के चारे के रूप में काट कर उपयोग करें, किसानों द्वारा पास की गौशाला में पराली काटकर पहुंचाने पर कटाई व ढुलाई का भुगतान ग्राम पंचायत द्वारा किया जायेगा, इस सम्बन्ध में भी जागरूक किया जाये। उन्होंने कहा कि मल्चर के माध्यम से भी पराली को मिट्टी मे मिलाकर जैविक खाद के रूप में परिवर्तित किया जा सकता है।

आयोजित बैठक में विधायक पूरनपुर द्वारा सभी प्रधानों को सरकार की मंशा के अनुरूप विकास कार्यों में तेजी लाने की अपील की गई। उन्होंने कहा कि हमारी सरकार सभी प्रकार की योजनाओं को जन जन तक पहुंचाने के लिए कटिबद्व है और आप सभी लोगो भी पूर्ण सहयोग करें।
आयोजित बैठक में मुख्य विकास अधिकारी श्रीनिवास मिश्र, उप जिलाधिकारी पूरनपुर, उप जिलाधिकारी योगेश कुमार, खण्ड विकास अधिकारी सहित अन्य उपस्थित रहे।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!