भारत में कोरोना की सबसे ज्यादा 88 फीसदी रिकवरी रेट है- पीएम

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ‘ग्रैंड चैलेंजेज एनुअल मीटिंग-2020’ कार्यक्रम में कहा कि भारत में कोरोना की सबसे ज्यादा 88 फीसदी की रिकवरी रेट है । आज, हम रोजाना के मामलों की संख्या और केस की वृद्धि दर में गिरावट देख रहे हैं । उन्होंने कहा कि ऐसा इसलिए हुआ क्योंकि भारत लॉकडाउन अपनाने वाले पहले देशों में से एक था । वहीं कोरोना वैक्सीन को लेकर उन्होंने कहा कि हमारा देश इस दिशा में फ्रंट पर है ।

पीएम मोदी ने कहा कि भारत मास्क के उपयोग को प्रोत्साहित करने वाले में से एक था । यहां कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग का काम सही तरीके से शुरू किया गया । इसके साथ ही भारत उनमें से एक था जहां पर रैपिड एंटीजन टेस्ट की इस्तेमाल किया गया ।

प्रधानमंत्री ने कहा कि भारत के पास एक मजबूत वैज्ञानिक समुदाय है । हमारे पास अच्छे वैज्ञानिक संस्थान भी हैं ।कोविड-19 से लड़ते हुए वे विशेष रूप से पिछले कुछ महीनों के दौरान भारत की सबसे बड़ी संपत्ति रहे हैं ।

पीएम मोदी ने कहा कि हमने कई कदम उठाए हैं जो एक बेहतर स्वास्थ्य प्रणाली में योगदान दे रहे हैं । इसमें स्वच्छता को अपनाना, शौचालय की संख्या और साफ-सफाई में सुधार शामिल है।यह सबसे ज्यादा गरीबों और वंचितों की मदद करता है । इससे बीमारियों में कमी आती है ।

पीएम ने कहा कि भविष्य उन समाज से बनेगा जो विज्ञान और नवाचार में निवेश करेंगे । लेकिन, यह अदूरदर्शी तरीके से नहीं किया जा सकता है । पहले से विज्ञान और नवाचार में अच्छी तरह से निवेश करना होगा । तभी जब हम सही समय पर लाभ उठा सकते हैं ।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!