गड्ढा मुक्त अभियान की आस लागाए बैठी नक्शल प्रभावित क्षेत्र की सड़कें

अरविंद चौबे (संवाददाता)

– 15 वर्षों से उपेक्षित है लौवा से मऊ 8 किमी सड़क

मारकुंडी (सोनभद्र) । शासन द्वारा चलाया गया गड्ढा मुक्त सड़क अभियान का असर पहाड़ी ग्रामीण अंचलों में आज तक नहीं दिखा आज भी नक्शल प्रभावित क्षेत्र गरीब लोग सड़क निर्माण की आस लगाए बैठे हैं।
नगवां विकास खण्ड के लौवा से मऊ 8 किमी सड़क 15 वर्षों से आज तक उपेक्षित पड़ी है।जो पूर्व में PWD के द्वारा बनाया गया था । बनाने से आज तक जन प्रतिनिधि समेत विभागीय अधिकारियों ने भी कभी इस जर्जर गड्डे में तब्दील सड़क की सुध नहीं लिये। ऐसा नहीं है कि आम जनमानस व प्रधान लोग समय-समय पर सम्बन्धित लोगों को अवगत कराते चलें आ रहे हैं फिर भी आज तक सड़क की मरम्मत तक नहीं कराया गया। जिससे आम पैदल छोटे बड़े वाहनों की आवाजाही में बड़ी कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है।
पहाड़ी ग्रामीण अंचलों के लोगों ने जिलाधिकारी से स्थलीय निरीक्षण करा कर अविलंब सड़क की मरम्मत की मांग किया है जिससे आम लोगों को आवागमन के प्रति राहत मिल सके।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!