बेसिक शिक्षा समिति के अध्यक्ष ने मुख्यमंत्री को संबोधित जिलाधिकारी बरेली को सौंपा ज्ञापन

आलोक शर्मा (संवाददाता)

बरेली । आज जनपद बरेली में बेसिक शिक्षा समिति के अध्यक्ष जगदीश चंद्र सक्सेना ने मान्यता प्राप्त स्कूलों की नर्सरी से कक्षा 8 तक की कक्षाएं भी कक्षा 9 से कक्षा 12 तक की कक्षाओं के साथ खोलने की अनुमति तथा स्कूल बंदी काल का वेतन सरकार द्वारा भुगतान की मांग की।
उन्होंने मुख्यमंत्री उत्तर प्रदेश सरकार को संबोधित ज्ञापन में बताया कि सैकड़ों मान्यता प्राप्त स्कूल हमारे संगठन के सदस्य हैं ,इन स्कूलों को करो ना महामारी के चलते मार्च 2020 से कोई शुल्क प्राप्त नहीं हुई है, जिस कारण स्कूल संचालक ब शिक्षक व शिक्षकेतर कर्मचारी अत्यंत आर्थिक संकट से जूझ रहे हैं इन लोगों को दो वक्त की रोटी भी नियमित नहीं मिल पा रही है बीमार होने पर इलाज व दवा का प्रबंध भी नहीं कर पा रहे हैं, अखंड कर्ज में डूब गए हैं ,यह सत्य है कि सरकार ने फीस माफ नहीं की है पर अभिभावक स्कूल करो कि नहीं कर रहे हैं ,ऐसी स्थिति में फीस की मांग किस से की जाए सत्र 2020 किसके साथ महीने गुजर गए हैं ,अभिभावक 700 की आस लगाए बैठे हैं अगर नर्सरी से कक्षा 12 तक की कक्षाएं एक साथ खोलने की अनुमति दे दी जाए, तो बच्चों की पढ़ाई के लिए प्रेरित किया जा सकता है, स्कूल संचालकों को भी इस सत्र के बचे 5 महीनों में सिर्फ कुछ महीनों की फीस मिल सकती है, इससे स्कूल परिवारों के थोड़े आंसू पूछ सकते हैं।
2 जनवरी 2020 से लगातार 10 महीनों से इसका एक भी पैसा ना मिलने के कारण हमें स्कूल संचालक स्कूलों के शिक्षक व शिक्षणेत्तर कर्मचारियों को वेतन देने में असमर्थ हैं।
बेसिक शिक्षा समिति के विज्ञापन दाताओं में अध्यक्ष जगदीश चंद्र सक्सेना के साथ पंकज सक्सेना महामंत्री , संगठन मंत्री अवनेद्र स्नातक मौजूद रहे उपाध्यक्ष सर्वेश पाठक, कबीर अहमद, सुरेश यादव, राजीव यादव, रामकृष्ण शुक्ला, रिंकेश चौरसिया, कानूनी सलाहकार अभय भटनागर एडवोकेट ने ज्ञापन के द्वारा अपने विचार व्यक्त किए।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!