30 नवंबर तक होगा श्रमिक पंजीयन एवं पंजीकरण

आनन्द कुमार चौबे (संवाददाता)

सोनभद्र । उत्तर प्रदेश भवन एवं अन्य सन्निर्माण कर्मकार कल्याण बोर्ड के अंतर्गत श्रम विभाग द्वारा श्रमिकों के लिए चलाई जा रही विभिन्न योजनाओं का लाभ लेने के लिए अब श्रमिक पंजीयन व उसका नवीनीकरण कराने के लिए 30 नवंबर तक कोई शुल्क नहीं देना पड़ेगा।

उक्त जानकारी देते हुए पिपरी स्थित उप श्रमायुक्त कार्यालय के डीएलसी सरजू राम शर्मा ने बताया कि “श्रमिक पंजीयन व नवीनीकरण 9 अक्टूबर से पूर्णतया निशुल्क कर दिया गया है साथ ही नवीनीकरण कराने के लिए विलंब शुल्क भी माफ कर दिया गया है। मनरेगा एवं अन्य निर्माण श्रमिकों को अब तक पंजीयन शुल्क के रूप में 20 रुपये तथा अंशदान शुल्क 20 रुपये प्रति वर्ष देना पड़ता था।इसके अलावा नवीनीकरण में विलंब हो जाने पर 5 रुपये प्रति माह की दर से विलंब शुल्क भी देना पड़ता था। परंतु कोरोना महामारी के चलते 9 अक्टूबर को बोर्ड की हुई बैठक में पंजीकरण व विलंब शुल्क माफ कर दिया गया है। डीएलसी ने बताया कि यह विशेष योजना 30 नवंबर 2020 तक है। उन्होंने श्रमिकों से अपील की है कि वह अपना आधार कार्ड, बैंक पासबुक, 90 दिन कार्य करने का स्व घोषणा पत्र व अपना मोबाइल लेकर निकटतम जन सेवा केंद्र, सहज जन सेवा केंद्र या श्रम कार्यालय जाकर अपना पंजीकरण व नवीनीकरण निशुल्क करा लें। उन्होंने कहा कि विभाग में पंजीकृत श्रमिकों को ही यहां चल रही योजनाओं का लाभ मिलेगा इसलिए श्रमिक पंजीकरण कराकर इन योजनाओं का लाभ अवश्य लें।”



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!