दो शिक्षकों पर छाए संकट के बादल

फ़ैयाज़ खान मिस्बाही(ब्यूरो)

ग़ाज़ीपुर। फर्जी शैक्षिक प्रमाण पत्र पर चार वर्ष से नौकरी कर रहे दो और शिक्षकों का प्रकरण सामने आया है। जांच के बाद उनके टेट व स्नातक के प्रमाण पत्र फर्जी मिले हैं। इन शिक्षकों में हवलदार यादव प्राथमिक विद्यालय रेवतीपुर उत्तरी और आशीष कुमार प्राथमिक विद्यालय जबुरना जमानियां में तैनात हैं। दोनों शिक्षकों को विभाग ने नोटिस जारी कर स्पष्टीकरण मांगा है। जवाब देने के लिए सप्ताह भर का समय दिया गया है। इसके बाद उनके खिलाफ बर्खास्तगी की कार्रवाई की जाएगी। इससे फर्जी शिक्षक लाबी में हड़कंप मचा हुआ है। हवलदार यादव 2016 में हुई 15000 शिक्षक भर्ती में और आशीष कुमार इसी वर्ष हुई 16448 वाली शिक्षक भर्ती में चयनित हुए थे।उस समय किसी तरह फर्जी शैक्षिक प्रमाण पत्रों के सहारे नौकरी हथिया लिए।इधर कुछ दिन पहले इन दोनों शिक्षकों की किसी ने एसटीएफ व बीएसए से शिकायत कर दी। इस पर बीएसए ने बारीकी से इसकी जांच करानी शुरू की। जांच में सामने आया कि हवलदार यादव का टेट प्रमाण पत्र फर्जी है। वहीं आशीष कुमार का टेट व स्नातक दोनों प्रमाण पत्र फर्जी हैं।यह कहीं से कूटरचित कर बनाए गए हैं। मामला खुलने के बाद हवलदार यादव को एक सप्ताह पहले पहली नोटिस जारी की गई थी लेकिन समय बीतने के बाद भी उसका कोई जवाब नहीं मिला। इसके बाद फिर दूसरी नोटिस जारी की गई और सप्ताह भर के भीतर जवाब मांगा गया है। उधर आशीष कुमार को गुरुवार को पहली नोटिस जारी की गई।ऐसे फर्जी शिक्षकों को विभाग की ओर से तीन बार नोटिस जारी की जाती है। इसका जवाब न मिलने पर उन्हें बर्खास्त कर दिया जाता है।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!