निर्धारित लक्ष्य के सापेक्ष शत-प्रतिशत की जाये वसूली- जिलाधिकारी

दीनदयाल शास्त्री (ब्यूरो)

पीलीभीत । जिलाधिकारी पुलकित खरे की अध्यक्षता में राजस्व कार्यों व कर-करेत्तर समीक्षा बैठक देर शाम गांधी सभागार में सम्पन्न हुई। बैठक के दौरान जिलाधिकारी ने वाणिज्यकर, स्टाम्प, आबकारी, परिवहन, विद्युत, सामाजिक वानिकी, बाढ़ खंड, मण्डी, राजस्व विभाग सहित विभिन्न विभागों के निर्धारित किये गए लक्ष्य के सापेक्ष अब तक की गई राजस्व वसूली की विभागवार समीक्षा की गई। उन्होंने समस्त विभागों को शासन द्वारा निर्धारित लक्ष्य के अनुरूप तैयारियां सुनिश्चित करते हुये कार्य करने हेतु निर्देशित किया गया। उन्होने कहा कि कोरोना संकटकाल के दौरान आई कमी को पूर्ण करने हेतु अधिक से अधिक कार्यवाहियां की जाये तथा निर्धारित राजस्व की शतप्रतिशत वसूली सुनिश्चित की जाये। राजस्व वसूली की समीक्षा के दौरान एआईजी स्टाफ द्वारा विगत बैठक में दौरान क्रर्मिक लक्ष्य के अनुरूप वसूली करने के संबंध में दिए गए निर्देशों का अनुपालन न करने व विगत माह से कम वसूली प्रगति किए जाने के कारण इस माह का वेतन रोकने के निर्देश दिए गए। इसके साथ ही साथ एआरटीओ द्वारा क्रमिक लक्ष्य पूर्ण न करने के कारण चेतावनी देने के निर्देश दिए गए। इस दौरान संबंधित समस्त अधिकारियों को कड़े निर्देश देते हुए कहा कि प्रति माह प्रगति निश्चित रूप से सुनिश्चित की जाए यदि विगत माह से प्रगति में कमी आती है तो संबंधित के विरुद्ध कड़ी कार्यवाही की जाएगी शासन की मंशा के अनुरूप निर्धारित लक्ष्य की शत-प्रतिशत वसूली सुनिश्चित की जाए इसमें किसी भी प्रकार की लापरवाही क्षम्य नहीं होगी।
उन्होंने सभी तहसीलदारों को कडे निर्देश दिए कि वह अमीनवार और आर सी वार रजिस्टर बनाया जाना सुनिश्चित करें तथा सभी आर सी की शत-प्रतिशत वसूली किया जाना सुनिश्चित करें। उन्होने कहा कि आर सी का मिलान बैंको से अवश्य करायेें। सभी तहसीलदारों को यह भी निर्देश दिए कि वह ई-डिस्ट्रिक्ट पोर्टल पर लम्बित आय, जाति, मूल, निवास, हैसियत प्रमाण पत्रों को तत्काल निस्तारित करें। उन्होने कहा कि सभी संदर्भोेें का एक पोर्टल समाधान पोर्टल हो गया है, जिसकों प्रतिदिन सभी अधिकारी अवलोकन करते रहें और प्राप्त संदर्भां को समयांतर्गत निस्तारण कराना सुनिश्चित करें।
बैठक के दौरान उन्होने सभी उपजिलाधिकारियों को निर्देश दिए कि कोविड-19 की सावधानियों के साथ अपने न्यायालयों में लम्बित प्रकरणों को तेजी के साथ निस्तारण करें। उन्होंने कहा कि सभी तहसीलों में पुराने वादो का प्राथमिकता के आधार निस्तारण किया जाये। राजस्व कार्यों की समीक्षा के दौरान पट्टे आवंटन सम्बन्धी कार्यों के सम्बन्ध में कहा कि समस्त तहसीलदार पट्टे का स्थलीय निरीक्षण व जांच पड़ताल के बाद ही पात्र व्यक्तियों को पट्टा कब्जा प्रदान किया जाये। इस दौरान पट्टेदार व संबंधित लेखपाल की फोटो कब्जा प्रदान की गई भूमि के साथ मय आख्या सहित रजिस्टर तैयार किया जाय। पट्टा आवंटन में अमरिया तहसीलदार की प्रगति कम होने के कारण उनका भी इस माह का वेतन रोकने के निर्देश दिए गए।
बैठक में अपर जिलाधिकारी (वि./रा.) अतुल सिंह, अपर जिलाधिकारी (न्यायिक) देवेन्द्र प्रताप मिश्र, नगर मजिस्ट्रेट अरूण कुमार सिंह, समस्त उपजिलाधिकारी, अधिशासी अभियन्ता विद्युत, एआरटीओ अमिताभ राय, जिला आबकारी अधिकारी, वाणिज्य कर अधिकारी सहित अन्य अधिकारी मौजूद रहे।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!