नवरात्रि से पूर्व सौन्र्दीयकरण को लेकर जिलाधिकारी ने किया निरीक्षण

दीनदयाल शास्त्री (ब्यूरो)

– मन्दिर परिसर में नवरात्रि से पूर्व लाइट, श्रद्वालुओं के बैठने की व्यवस्था, पेयजल व बाउण्ड्रीवाल निर्माण कराना सुनिश्चित करें- जिलाधिकारी

पीलीभीत । जिलाधिकारी पुलकित खरे द्वारा मंगलवार को देर रात आगामी नवरात्रि त्यौहार के दृष्टिगत यशवंतरी मंदिर के सौन्र्दीयकरण हेतु निरीक्षण किया गया । निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी द्वारा संबंधित अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि नवरात्र से पूर्व मंदिर के सौन्र्दीयकरण का कार्य पूर्ण किया जाएगा। उन्होंने कहा कि सबसे महत्वपूर्ण कार्य मंदिर के चारों ओर बाउण्ड्रीवाल का कार्य किया जाना है जिसको तत्काल प्रारंभ कराया जाए उसके पश्चात बाउण्ड्रीवाल पर माँ दुर्गा माता के नौ रूपों का चित्रण कराकर सौन्र्दीयकरण करना सुनिश्चित किया जाए। उन्होंने कहा कि मंदिर परिसर में लाइट व श्रद्वालुओं के बैठने की व्यवस्थाओं को बढ़ाया जाए तथा मंदिर के दोनों ओर से आने वाले रास्तों पर अतिरिक्त पोल लगाकर लाइट की व्यवस्था बढ़ाई जाए और साथ ही साथ मंदिर परिसर की साफ-सफाई पर विशेष ध्यान देने के निर्देश दिए गए। उन्होंने कहा कि मंदिर परिसर में पेयजल के लिए अतिरिक्त वाटर कूलर लगाए जाएं तथा शौचालयों की संख्या में भी बढ़ोतरी की जाए, जिससे आने वाले श्रद्धालुओं को किसी प्रकार की कोई असुविधा न उत्पन्न होने पाये। उन्होंने कहा कि कोरोना संकटकाल में कोरोना प्रोटोकॉल व नियमों का अनुपालन करते हुए नवरात्र का त्यौहार मनाया जाएगा। इससे पूर्व मंदिर को पूरी तरह से स्वच्छ और सुंदर बनाना हम सबकी जिम्मेदारी है। उन्होंने मंदिर के पुजारी को निर्देशित करते हुए कहा कि नवरात्र से पूर्व मंदिर परिसर में तालाब का आने वाला पानी रोकने के लिए पास में दीवार का निर्माण कराकर जाये और दीवारों पर पर लाइट लगाकर सौन्र्दीयकरण किया जाये।
इस दौरान जिलाधिकारी द्वारा अधिशासी अधिकारी नगर पालिका को निर्देशित किया गया कि तालाब में आने वाले नालों के मार्ग में परिवर्तन हेतु तत्काल कार्य प्रारम्भ कराना सुनिश्चित किया जाये, जिससे तालाब में गन्दा पानी न आने पाए।
निरीक्षण के दौरान नगर मजिस्ट्रेट अरूण कुमार सिंह, अधिशासी अधिकारी नगर पालिका निशा मिश्रा सहित अन्य उपस्थित रहे।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!