लेखपाल की एक पक्षीय कार्यवाही को लेकर गांव में तनाव, हटाने की उठी मांग

कुलदीप यादव (संवाददाता)

कमालपुर। चन्दौली धानापुर थाना के असवरिया गांव में तैनात लेखपाल द्वारा पोखरी व छौरा का सीमांकन गलत तरीके से किये जाने से गांव में तनाव बढ़ गया है। लोगों का आरोप है कि लेखपाल द्वारा राजस्व परिषद के बनाये गए नियमो को ताक पर रखकर पैमाइस कर दिया है जिससे लोगो के बीच विवाद पैदा हो गया है । आलम यह है कि गांव में तनाव इस कदर बढ़ गया है कि कभी भी कानून व्यवस्था बिगड़ सकता है । तीन सितम्बर को तैनात लेखपाल द्वारा गलत सूचना देकर उपजिलाधिकारी सकलडीहा को गांव में बनी एक जाति के लोगो की पुरानी दीवाल को गिरवा दिया गया । इस बात से गांव में इस समय काफी तनाव हो गया है । नाराज लोगों का कहना है कि अन्य जाति द्वारा किया गया अतिक्रमण लेखपाल द्वारा नही हटाया गया। बढ़ते तनाव व लेखपाल की इस हरकत को लेकर पत्रकारों का एक प्रतिनिधिमंडल अपर जिलाधिकारी अतुल सिंह से भी मिला और मांग किया कि लेखपाल को तत्काल हटाया जाय अन्यथा कानून व्यवस्था बिगड़ सकता है ।
असवरिया गांव के इस प्रकरण को लेकर समाजवादी पार्टी के पूर्व सांसद रामकिशुन यादव ने कहा कि जिला प्रशासन केवल एक जाति विशेष के खिलाफ गलत कार्यवाही कर रहा है। जिससे अमन चैन बिगड़ रहा है। उन्होंने कहा कि गांव में जिसके वजह विवाद बढ़ रहा है उसको तत्काल प्रभाव से हटा देना चाहिये । जिससे गांव की समस्या का निदान हो सके। आज राजश्व बिभाग केवल गावो में विवाद खड़ा करके अपने जेब भर रहा है। यह कार्य ठीक नहीं ।जिलाधिकारी इस मामले को सज्ञान में लेकर आवश्यक कार्यवाही करें। जिससे समस्या का निदान हो सके। एक पक्षीय कार वाही ठीक नही ।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!