गौशालाओं की समस्त व्यवस्थाऐं 07 दिन में की जायें चुस्त दुरूस्त -जिलाधिकारी

दीनदयाल शास्त्री (ब्यूरो)

पीलीभीत । जिलाधिकारी पुलकित खरे की अध्यक्षता में गौशाला सम्बन्धी जनपदस्तरीय अनुश्रवण एवं मूल्याकंन एवं समीक्षा समिति, मनरेगा योजनान्तर्गत निर्मित अस्थाई गौस्थलों की पशु विभाग के अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक गांधी सभागार में सम्पन्न हुई। आयोजित बैठक में जिलाधिकारी द्वारा समस्त उप पशु चिकित्साधिकारी अधिकारियों को निर्देशित किया गया कि अगले दो माह में सभी गौशालाओं में हरे चारे की उपलब्धता सुनिश्चित कराई जाये। अगले दो माह के उपरान्त हरे चारे के ठेके निरस्त कर दिये जायेगें। ग्रामीण क्षेत्र की सभी गौशालाओं में अगले सप्ताह नैपियर घास बोने का अभियान संचालित कर कार्य किया जायेगा। जिन गौशालाओं में भूमि नही तो पास के ग्रामीण क्षेत्र की चारागाह भूमि पर मनरेगा के माध्यम से तार फेंसिग कराकर कार्य किया जाये। समस्त गौशालाओं में हरे चारे की उपलब्धता के लिए सम्बन्धित समिति के सदस्य व पशु चिकित्साधिकारी जिम्मेदार होगे। बैठक के दौरान जिलाधिकारी द्वारा निर्देशित किया गया कि भूसा का ठेका खण्ड विकास अधिकारी स्तर से समिति की निगरानी के माध्यम से किया जायेगा। उन्होंने कहा कि गौशालाओं के संरक्षण हेतु अगले 05 दिन में उपजिलाधिकारी व खण्ड विकास अधिकारी द्वारा गठित तहसील स्तरीय समिति का बैंक खाता मुख्य पशु चिकित्साधिकारी द्वारा नही खोला गया तो आवश्यक कार्यवाही अमल में लाई जायेगी।
इसके साथ ही साथ जिलाधिकारी द्वारा निर्देशित किया गया कि जिन गौशालाओं में क्षमता से अधिक गौवंश है उनका स्थानान्तरण अन्य गौशालाओं में नामित अधिकारियों की देखरेख में किया जाये। उन्होंने कहा कि सभी गौशालाओं को स्वालम्बी बनाना है इसके लिए स्वयं सहायता समूहों के माध्यम से गौमूत्र व गौबर से खाद, उपले बनाये जायेगें जिससे आय की उपलब्धता प्राप्त होगी। इस दौरान उन्होंने निर्देशित किया गया कि वर्मी कम्पोस्ट पिट बनाकर खाद बनाई जाये जिससे की गौशालाओं की आय में वृद्धि की जा सके साथ ही यह भी निर्देशित किया गया कि गौशालाओं की बुनियादी समस्याऐं 07 दिन में चुस्त दुरूस्त कर ली जाये।
पूर्व बैठक में दिये निर्देशों की समीक्षा करते हुये ग्रामीण क्षेत्रों की 12 गौशालाओं की बुनियादी सुविधाओं का जायजा लिया गया। इस दौरान अमरगंज ललौरीखेड़ा, सिंधौरा खरगपुर, फतेहपुर खुर्द व पृथ्वीपुर निर्माणाधीन गौशालाओं में बुधवार से पहले विद्युत कनेक्शन, पेयजल, तार फेसिंग, समतलीकरण आदि अवशेष व्यवस्थायें अगले बुधवार से पहले पूर्ण करते हुये बुधवार को जनप्रतिनिधियों के माध्यम से उद्घाटन कराया जायेगा। विधायक निधि से निर्माणधीन गौशाला को सम्बन्धित कार्यदायी संस्था को कार्य पूर्ण कर प्रारम्भ कराने हेतु निर्देशित किया गया। बैठक में जिलाधिकारी द्वारा पूर्व बैठक में दिये गये के क्रम में विकासखण्ड वार 5-5 गौशालाऐं मनरेगा के माध्यम से भूमि का चयन कर निर्माण हेतु निर्देशित किया गया था। इस सम्बन्ध ललौरीखेड़ा, बरखेडा में भूमि प्राप्त कर ली गई है। जिस पर कब्जा मुक्त कर कार्य प्रारम्भ करने के निर्देश दिये गये।
बैठक में मुख्य विकास अधिकारी श्रीनिवास मिश्र, पशु चिकित्साधिकारी, परियोजना निदेशक अनिल कुमार, डीसी मनरेगा मृणाल सिंह, समस्त खण्ड विकास अधिकरी व एडीओ पंचायत सहित अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!