स्वास्थ्य विभाग की बड़ी लापरवाही आई सामने, L-2 अस्पताल से भागी महिला मरीज को लेकर कन्फ्यूजन बरकरार

आनन्द कुमार चौबे (संवाददाता)

● स्वास्थ्य महकमें की बड़ी चूक आई सामने

गत 3 सितम्बर की देर रात कोरोना पॉजिटिव महिला मरीज हुई L-2 हॉस्पिटल से फरार

L-2 हॉस्पिटल के डॉक्टर और नर्स से विवाद कर मरीज को ले गए उसके परिजन

मामले की गंभीरता को देखते हुए सीएमएस ने पत्र लिख दी उच्चाधिकारियों को घटना की सूचना

अब तक कोरोना पॉजिटिव महिला मरीज की नहीं मिली है जानकारी

● सीएमओ बोले, घटना की नहीं है कोई जानकारी

सोनभद्र । जिस तरह से कोविड-19 के आंकड़े लगातार बढ़ रहे हैं उससे सरकार भी हैरान व परेशान है। तमाम एतिहात बरतने के बाद भी कोरोना संक्रमण से होने वाली मौत का आंकड़ा भी बढ़ रहा है। सरकार के निर्देश के बाद प्रशासनिक अधिकारी हर रोज कोविड अस्पताल में बैठकर एक एक चीजों की समीक्षा कर रहे हैं लेकिन बावजूद इसके हर दिन नए-नए आंकड़े सामने आ रहे हैं।

इसी बीच स्वस्थ्य विभाग की एक बड़ी लापरवाही सामने आई है। जिला अस्पताल के सीएमएस ने सीएमओ को एक पत्र लिखकर अवगत कराया है कि गत 3 सितम्बर को देर रात L-2 अस्पताल में आई परासी निवासी एक महिला मरीज के परिजन अस्पताल स्टाफ से विवाद करने के बाद अस्पताल से लेकर चले गए। सीएमएस ने उस महिला का नाम-पता व मोबाइल नम्बर देते हुए सीएमओ को अवगत कराया ताकि समय पर उचित कार्यवाही की जा सके। इतना ही नहीं सीएमएस डॉ0 पी0बी0 गौतम ने इसकी कॉपी जिलाधिकारी व पुलिस अधीक्षक को भी दी।

उक्त प्रकरण को लेकर सीएमएस का कहना है कि “यह एक गंभीर प्रकरण है इसलिए उन्होंने 4 सितम्बर को ही पत्र लिखकर इसकी सूचना उच्चाधिकारियों को दे दिया था। उनका कहना है कि महिला मरीज L-2 स्तर की थी लेकिन आते ही उनके परिजन डॉक्टर व स्टाफ से विवाद करने लगे और उसके बाद वे महिला कोरोना मरीज को जबरन लेकर चले गए। महिला के वापस आने या फिर उनके बारे में कोई भी जानकारी नहीं है। उन्होंने बताया कि यदि महिला बाहर है तो काफी गंभीर प्रकरण है क्योंकि महिला को L-1 से L-2 में शिफ्ट किया गया था यानी उनकी कोरोना को लेकर स्थिति ठीक नहीं थी।”

बहरहाल सीएमएस द्वारा 4 सितम्बर को लिखे गए पत्र को लेकर सीएमओ ने यह कह कर पल्ला झाड़ लिया कि उन्हें कोई भी पत्र नहीं मिला है।

ऐसे में बड़ा सवाल यह उठता है कि कोरोना जैसी महामारी में जिम्मेदार इस तरह से काम करेंगे तो न सिर्फ कोरोना की भयावह स्थिति को बढ़ावा मिलेगा बल्कि जिले स्तर पर अब तक हुए सारे प्रयास भी बेकार हो जाएंगे।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!