भ्रष्टाचार के खिलाफ ग्रामीणों ने खोला मोर्चा

आनन्द कुमार चौबे (संवाददाता)

सोनभद्र । जन कल्याणकारी योजनाओं में व्याप्त भ्रष्टाचार के खात्मा के लिए ग्रामीणों ने मोर्चा खोल दिया है। आज गांव के कई लोगों ने कलेक्ट्रेट में प्रदर्शन किया और डीएम को शिकायती पत्र देकर मामले की जांच कराकर जिम्मेदारों के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की।

विकास खंड म्योरपुर क्षेत्र के अहिरबुड़वा गांव के दर्जनों लोगों ने राजेश यादव की अगुवाई में कलेक्ट्रेट में प्रदर्शन किया साथ ही जिलाधिकारी को दिए गए शिकायती पत्र में बताया कि ग्राम प्रधान, ग्राम सेवक व ग्राम विकास अधिकारी द्वारा शासन स्तर से संचालित योजनाओं में भारी धांधली की जा रही है।

ग्रामीणों ने कहा कि “ग्राम प्रधान, ग्राम रोजगार सेवक तथा ग्राम पंचायत अधिकारी द्वारा आवास, सिचाई कूप निर्माण में हमलोगों से जबरन 5 हजार से 17 हजार रुपये की वसूली की जाती है। वहीं गाढ़ा खुदवाने के बाद हमें मजदूरी भी नहीं दी जा गयी और यदि मजदूरी देते भी हैं तो हमारी मजदूरी मात्र 150 रुपये ही दिया जाता है। ग्राम प्रधान दबंग किस्म के प्रधान हैं और सरकारी धन का दुरुपयोग और बंदरबाट कर रहे हैं। इसकी शिकायत हमने बीडीओ म्योरपुर से भी किया था, जिस पर बीडीओ ने जाँच कर ग्राम प्रधान दोषी पाया था लेकिन कोई अग्रिम कार्यवाही नहीं की गई।”

इस दौरान सरजू, विंध्याचल, महेंद्र, सुरेश, रामबदन, राजदेव, जगपत, श्रवण कुमार, पानकुँवर, गुणवंती, अक्षय कुमार समेत भारी संख्या में ग्रामीण मौजूद रहे।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!