बाजार बन्द होने के बाद भी सड़क पर रहती है भीड़ लॉक डाउन सिस्टम को फेल कर रहे लोग

मनोहर कुमार (संवाददाता)
जनपद में 1700 के करीब पहुंच रहा केस
कोराना से तेरह लोगों की हो चुकी है मौत

मुगलसराय। कोरोना संक्रमण से बचने के लिए किए जा रहे उपाय के चक्रव्यूह को तोड़ने के लिए आम जन ही तैयार बैठे हैं। बाजारों के बन्द होने के बाद भी सड़कों ओर लोगों की आवाजाही में कमी नहीं आ रही है।प्रशासन भी सखती बरत नहीं रहा है।जिससे बेजा घूमने वाले व मास्क न लगाने वालों के हौसले बुलन्द है। कहीं संक्रमण का रास्ता और बड़ा न हो जाए इस पर सावधान होने की जरूरत है। मास्क लगाने से लोग अब परहेज़ करने लगे हैं।विश्व भर के अधिकाशं देशों में कोरान्ना संक्रमितों केसों की संख्या दो करोड़ पैंसठ लाख के पार चली गई है। भारत में ही संक्रमितों केसों की संख्या इकतीस लाख के पार हो गई है। उत्तर प्रदेश में ही एक लाख से ज्यादा केस हो गए हैं।जबकि धान के कटोरे के रूप में विख्यात चन्दौली में संक्रमित केसों के संख्या 1649 हो गई।संक्रमण। से ग्रसित तेरह लोग असमय ही जीवन से विदा हो गए। सरकार और जिला प्रशासन की ओर से संक्रमण के प्रभाव को रोकने के लिए ऎतिहातन कई उपाय किए हैं।सरकार की ओर से शनिवार व रविवार को 55 घंटे की बन्दी कि जा रही है। जबकि जिला प्रशासन ने महामारी को रोकने के लिए बाजारों में भीड़ कम करने के लिए समय निर्धारित किया है। सुबह नौ बजे से शाम पांच बजे तक ही दुकान खोलने के आदेश है।इसके बाद भी दुकानें खुली रह रही हैं।लोग देर शाम तक सड़कों पर भीड़ लगाए रहते हैं। पुलिस भी केवल हूटर बजाकर निकल जा रही है। लोग मास्क भी लगाने से परहेज़ कर रहे हैं।सोसल डिस्टेंसिंग की डोर टूट चुकी है। आलम यही रहा तो लॉक डाउन फेल होता रहेगा।संक्रमण का रफ्तार भी गति पकड़ सकता है।इसलिए सभी को सचेत होने की जरूरत है।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!