सर्पदंश से अधेड़ की मौत, इलाज के बजाय परिजन कराते रहे ओझाई

भाष्कर चतुर्वेदी (संवाददाता)

आसनडीह । बभनी थाना क्षेत्र के सतबहनी गांव के रामखेलावन पुत्र रुपचंद 45वर्ष बीते रविवार को दोपहर बाद करीब चार बजे खेत पर धान देखने गया था। वहीं एक बिषैले सर्प ने उसे डस लिया। वह किसी प्रकार घर आकर परिजनों को बताया। परिजन तुरंत ओझाई कराने लगे। सोमवार तक ओझाई होती रही लेकिन शाम तक हालत में सुधार न होते देख परिजन उसे अस्पताल ले जा रहे थे कि रास्ते में ही उसने दम तोड़ दिया। अंधविश्वास के चक्कर में उसकी जान चली गयी। लोगों कहना है कि काश उसे समय से अस्पताल ले जाते तो शायद जान बच जाती। यह जानकारी गांव के ही क्षेत्र पंचायत सदस्य जान सिंह ने दी है।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!