राइस मिलरों के खिलाफ लखनऊ से आई टीम ने कसा शिकंजा, खाद्यान्न निकासी पर लगाई रोक

संजीव कुमार पांडेय (संवाददाता)

राजगढ़ । मड़िहान तहसील क्षेत्र अंतर्गत राजगढ़ के पचोखरा गांव स्थित हाट शाखा पर रविवार की देर शाम पहुचीं जांच टीम को देखते ही कर्मचारियों में खलबली मच गई। लखनऊ से आई टीम में एडिशनल कमिश्नर विपणन व एडिशनल कमिश्नर खाद्य ने निरीक्षण किया गोदाम के अंदर रखे बोरियों से सैम्पल लिया। मौके पर मौजूद मुख्य राजस्व अधिकारी हरिशंकर यादव ने अधो मानक चावल देखते ही उनके होश उड़ गए। विपणन अधिकारी से पूछा तो मिलरों का बचाव करते हुए क्षेत्र में हाइब्रिड धान की खेती ज्यादा होना बताकर पल्ला झाड़ लिया। जबकि नौनिहालों को वितरण के लिए कोटे पर दिया गया घटिया खाद्यान्न दिए जाने की शिकायत पर शासन से जांच टीम भेजी गई है। टीम ने सभी हाट शाखा प्रभारियों को निर्देशित किया कि जब तक जांच पूरी नहीं हो जाती तब तक गोदाम से रासन की निकासी नही की जाएगी। हाट शाखा कलवारी व हाट शाखा पचोखरा पर गार्ड की तैनाती कर निगरानी के लिए लगाया गया है। केंद्र प्रभारियों को निर्देशित किया गया है कि गोदाम के अंदर रखे खाद्यान से छेड़खानी की गई तो कार्यवाई की जाएगी। राइस मिलरों के खिलाफ टीम कसेगी शिकंजा रविवार की देर शाम पचोखरा स्थित हाट शाखा का निरीक्षण करने पहुची लखनऊ की टीम को गोदाम के अंदर अधोमानक खाद्यान मिलने पर लेवी देने वाले मिलरों पर शिकंजा कसने की तैयारी में विपणन अधिकारियों से मिलरों की सूची मांगी गई है। राजगढ़ के बघौड़ा,भांवा, राजगढ़,दादरा, धनसीरिया,मड़िहान, समेत दर्जनों मिलर संबंध है। जांच के दौरान एसडीएम शिव प्रसाद, आरएफसी के के सिंह, क्षेत्रीय विपणन अधिकारी अजय प्रताप सिंह,राजगढ़ विपणन अधिकारी, वीरेंद्र यादव, मड़िहान विपणन अधिकारी दीपक श्रीवास्तव मौजूद रहे।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!