खाद की कालाबाजारी रोकने के लिए प्रशासन एलर्ट, डीएम बोले- किसानों को नहीं होगी यूरिया की कमी

आनन्द कुमार चौबे (संवाददाता)

● डीएम ने मंडलायुक्त से की दूरभाष पर की वार्ता

● यूरिया की उपलब्धता और कालाबाजारी रोकने के लिए की जा रही कार्यवाही से कराया अवगत

● जिलाधिकारी ने बताया अगले दो दिनों में सोनभद्र के लिए शिवपुर रैक प्वाइंट से प्राइवेट के लिए 706 एम0टी0 यूरिया होगी प्राप्त

● बोले डीएम, जाँच के दौरान यूरिया की कालाबाजारी करते तीन दुकानदार पकड़ाए

● दो दुकानों का लाइसेंस किया गया निरस्त जबकि एक दुकान से 34 बोरी यूरिया की गई सीज

● तीनों दुकानदारों के विरुद्ध दर्ज कराया जाएगी प्राथमिकी

सोनभद्र । जिले में कई दिनों से यूरिया के लिए किसानों के बीच चल रही मारामारी पर जिलाधिकारी एस0 राजलिंगम ने मंडलायुक्त प्रीति शुक्ला से दूरभाष पर वार्ता किया।

इस दौरान जिलाधिकारी ने मंडलायुक्त को अवगत कराते हुए कहा कि “जिले में किसानों के लिए यूरिया का स्टॉक पर्याप्त है और किसी भी किसान को यूरिया की कमी नहीं होगी। पिछले सप्ताह में सहकारिता की 2603 एम0टी0 एवं प्राईवेट की 801 एम0टी0 यूरिया कुल 3404 एम0टी0 उर्वरक जनपद को प्राप्त हुई है। शनिवार को मीरजापुर रैक प्वाइंट पर जनपद सोनभद्र के लिए 1100 एम0टी0 यूरिया उर्वरक सहकारिता हेतु प्राप्त हुई है। वहीं अगले 02 दिवसों में शिवपुर, वाराणसी रैक प्वाइंट से जनपद सोनभद्र के लिए प्राईवेट की 706 एम0टी0 यूरिया प्राप्त होनी है, इसके उपरान्त जनपद में यूरिया उर्वरक की कमी नहीं रहेगी। जबकि खरीफ 2020 में माह अगस्त तक के यूरिया वितरण के लक्ष्य 10222 एम0टी0 के सापेक्ष अब तक 10324 एम0टी0 यूरिया का वितरण कराया जा चुका है और गत वर्ष उक्त अवधि में 6985 एम0टी0 यूरिया का वितरण कराया गया था।”

वहीं जिले में यूरिया की कलाबाजरी पर लगाम लगाने के लिए किए गए कार्यवाही को लेकर भी जिलाधिकारी ने मंडलायुक्त से वार्ता की।

जिलाधिकारी ने कहा कि “19 एवं 20 अगस्त को टीम गठित कर आकस्मिक रूप से छापेमारी की कार्यवाही करायी गई। छापेमारी के दौरान उर्वरकों के 12 नमूने संग्रहित किये गये। वहीं शनिवार को जिला कृषि अधिकारी पीयूष राय द्वारा छापेमारी की कार्यवाही में यूरिया उर्वरक की निर्धारित मूल्य से अधिक दर पर बिक्री करने वाले 02 उर्वरक व्रिकेताओं- राकेश खाद भण्डार, हिन्दुआरी एवं धनंजय बीज भण्डार, किरहुलिया बैरियर, रामगढ़ का लाइसेंस निरस्त करते हुए यूरिया का स्टाक सीज किया गया। इसी प्रकार ग्राम पटना, रामगढ़ में यूरिया उर्वरक की कालाबाजारी करते पाये गये श्यामा प्रसाद के पास 34 बोरी यूरिया सीज की गयी। उक्त तीनों उर्वरक विकताओं के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज कराने की कार्यवाही करायी जा रही है।”


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!