बार्डर क्षेत्र के गाँवों में पुलिस की सघन कांबिंग, ग्रामीणों से मिल जाना हाल

धर्मेन्द्र गुप्ता (संवाददाता)

विंढमगंज । स्थानीय थाना क्षेत्र जो नक्सल प्रभावित व झारखंड ,छत्तीसगढ़ बॉर्डर से सटा हुआ है, इस बॉर्डर क्षेत्र व जंगल के किनारे बसा ग्राम पंचायत बैरखड़ व बरखोरहा में आज जिले के पुलिस अधीक्षक के निर्देशन में दुद्धी सी ओ के अगुवाई में विंढमगंज, म्योरपुर, बभनी, दुध्दी थाने की फोर्स व सीआरपीएफ के जवानों के साथ सघन कांबिंग की तथा कांबिंग के दौरान ग्रामीणों से बातचीत के दौरान सुरक्षित रहने के लिए पुलिस और पब्लिक में आपसी मदद की भी बात कही।
आज थाना क्षेत्र के अंतर्गत दुरुह पहाड़ी क्षेत्र बरखोरहा व बैरखड़ में प्रशासन के दिशा निर्देश पर सीआरपीएफ के जवानों के साथ कई थाने के थानाध्यक्ष समेत पुलिस व पीएसी बलों ने कांबिंग की।

कांबिंग के दौरान गांव स्तर पर मिलने वाले ग्रामीणों से बातचीत के दौरान दुध्दी सी ओ संजय वर्मा ने ग्रामीणों को आश्वस्त किया कि पुलिस और पब्लिक में मित्रवत व्यवहार होना चाहिए। हम पुलिस के लोग आपकी हर सुरक्षा के लिए हर वक्त मुस्तैद हैं।ग्रामीण क्षेत्र में आने जाने वाले कई रास्तों पर आप लोग भी अपनी निगाह बनाए रखें तथा गांव में संदिग्ध अपरिचित व्यक्ति अगर किसी तरह की कोई घटना करने की आशंका लगती है तो आप तत्काल गांव के चौकीदार से विंढमगंज थानाध्यक्ष बृजमोहन सरोज को अवगत कराएं ताकि समाज में अशांति फैलाने वालों पर कठोर से कठोर कानूनी कार्रवाई की जा सके।

इतनी ज्यादा फोर्स के साथ उक्त गांव व गांव से सटे जंगली इलाके में घुसने से गांव में इस बात की चर्चा थी कि न जाने किस कारण आज गांव में इतनी ज्यादा फोर्स आई है परंतु जब बातचीत के दौरान यह पता चला कि गांव में अमन चैन बनाए रखने के लिए पुलिस कांबिंग कर रही है तब जाकर लोगों का उहापोह समाप्त हुआ।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!