कोरोना का नहीं कमाई का सता रहा डर

मनोहर कुमार (संवाददाता)
– दो वक़्त की रोटी के लिए काम की तलाश

-सब्जी बेच कर भी लोग कर रहे पेट पालन

मुगलसराय। कोरोना संक्रमण का फन तेजी से बढ रहा है।तमाम उपायों के बाद भी संक्रमण फैल रहा है।लोगों में लापरवाही बड़ती जा रही है।सरकार द्वारा दिए गए गाइड लाइन का पालन भी नहीं हो रहा है।शारीरिक व समाजिक दूरी ,मास्क लगाना लोग भूल रहे हैं। पुलिस प्रशासन के डर से लोग जिम्मेदारियों को निभा रहे हैं। कोरोणा काल में रोजगार का संकट खड़ा है। अब लोग बीमारी से नहीं कमाई से डर रहे हैं। बहुत से लोग अब सब्जी बेचकर जीवन यापन कर रहे हैं।
कोविड 19 का कहर विश्व सहित भारत में लगातार बड़ता जा रहा है।विश्व में कोरॉना संक्रमितों की संख्या भी बड़ती जा रही है। भारत में ही 26 लाख से ज्यादा कोरोना संक्रमित हो चुके हैं। अब तक उत्तर प्रदेश सरकार के दो मंत्रियों की मौत कोराना के संक्रमण से हुई है। अन्य राज्यों में भी कोराना का कहर जारी है। संक्रमितों की संख्या बड़ने के साथ मौत का आंकड़ा भी बड रहा है। सरकार ने कोरोना के संक्रमण फैलाव को रोकने के लिए प्रयास कर रही है। सामाजिक व शारीरिक दूरी को बड़ाने के लिए गाइड लाइन बना रखी है।प्रदेश में दो दिन का साप्ताहिक अवकाश किया गया है। दुकानों को खोलने व बन्द करने के नियम निर्धारित किए गया हैं।लोगों से सामाजिक व शारीरिक दूरी बनाए रखने व मास्क पहनने व साफ सफाई पर विशेष ध्यान देने का पाठ पढ़ाया जा रहा है। इन सबके बीच लोगों में रोजगार व कमाई को लेकर चिंता बड़ती जा रही है। लोग काम के लिए परेशान हैं।महामारी से ज्यादा कमाई की चिंता लोगों का खाए जा रही है।बहुत से रोजगार के साधन बन्द हैं। बहुत से लोग अपने पेशेवर काम को छोड़कर सब्जी बेचने में लगे हैं।जिससे कि उनको रोजगार के साथ घर का खर्च चल सके।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!