कवि कुलभूषण शर्मा ने मशहूर शायर राहत इंदौरी की मौत पर जताया गहरा दु:ख, पुरानी बातों को याद कर हुए भावुक

आलोक शर्मा (संवाददाता)

आंवला । नगर के कवि व समाजसेवी कुलभूषण शर्मा ने अंतरराष्ट्रीय कवि राहत इंदौरी के निधन पर गहरा शोक व्यक्त किया । उन्होंने बताया कि राहत इंदौरी साहब अंतरराष्ट्रीय लोकप्रिय शायर थे।
उनसे मेरी अपने जनपद बरेली में मुलाकात हुई जो भूले नहीं भुलाई जा सकती । उन पलों को याद करते हुए उनका मन भी भावुक हो उठा।
उन्होंने पुरानी यादों को याद करते हुए बताया कि तबीयत कुछ नासाज थी और मैं आराम कर रहा था सुबह से ही कहीं जाना भी नहीं हुआ था और ना ही मन कर रहा था कि कहीं जाऊं, तभी अचानक फोन की घंटी बजती है, मेरा फोन रिसीव करने का मन भी नहीं कर रहा था लेकिन पता नहीं क्यों मैंने फोन बिना नम्बर देखे रिसीव कर लिया । मैं कुछ कह पाता इससे पहले ही उधर से आवाज आई, राजा कैसे हो ? तुम्हारे शहर में आए हैं । मुझे पहचानने में देर न लगी कि आवाज अंतरराष्ट्रीय उर्दू शायर जनाब डॉ राहत इंदौरी साहब की थी । अगले ही पल उनका आदेश मुलाकात करने का रहा, जो मैंने सहर्ष स्वीकार किया और फिर पुरानी यादों का जो सिलसिला शुरू हुआ तो समय का पता ही ना चला । आपका जो प्यार हमें आज मिला यह प्यार हमें हमेशा मिलता रहे और शायरी की दुनिया में आपकी बादशाहत कायम रहें।
आज उन्हें करोना वैश्विक महामारी ने अपने आगोश में ले लिया और उनकी शायरी हमेशा के लिए इतिहास में मशहूर हो गई ।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!