नशा कारोबारी की संपत्ति कुर्क, लोगों ने ली राहत की सांस

संजय केसरी (संवाददाता)

डाला । सोनभद्र को अपराध मुक्त जिला बनाने के दिशा में जिलाधिकारी व पुलिस अधीक्षक की ताबड़तोड़ कार्यवाही अब लोगों को पसंद आने लगी है । लॉक डाउन के दौरान जिला प्रशासन न सिर्फ कोरोना से जनपद वासियों को बचाये रखा बल्कि उसी समय जिलाधिकारी व पुलिस अधीक्षक ने जनपद में बढ़ते अपराध को रोकने का ख़ाका तैयार कर लिया था । उसी कड़ी में जिला प्रशासन ने ऐसे छटे हुए बदमाशों को पहले गैंगस्टर में निरुद्ध किया और अब कुर्क की कार्यवाही कर रहा है ।
पहले रेनुकूट चेयरमैन हत्याकांड के 5 मुख्य आरोपियों के खिलाफ गैंगस्टर की कार्यवाही की फिर सभी की संपत्ति को कुर्क कर दिया । रेनुकूट की कार्यवाही करके जिला प्रशासन ने साफ संकेत दे दिया कि अपराधियों की जिले में कोई जगह नहीं, चाहे वह कितना भी पहुंच रखता हो ।

उसके बाद डाला क्षेत्र के सबसे बड़े नशे का कारोबार चलाने वाला सूरज राय को डेढ़ वर्ष पहले अनपरा थाना द्वारा एनडीपीएस एक्ट के तहत कार्यवाही किया गया था।

आज पूरे दिन लोगों में इस बात की चर्चा होती रही कि लम्बे समय से नशे से जिले को बर्बाद करने वाला सख्स आज खुद बर्बाद हो गया । प्रशासन ने उसके खिलाफ भी पहले गैंगस्टर की कार्यवाही की और फिर उसके संपत्तियों को कुर्क कर दिया ।

मंगलवार को जिलाधिकारी के निर्देश पर गैंगेस्टर सूरज राय के मकान को नायब तहसीलदार व पुलिस के मौजूदगी में सीज किया गया।

बतादें कि अभियुक्त सूरज राय पुत्र स्व0 राम आधार राय निवासी डाला बाजार की चल-अचल संपत्ति की धारा 14(1) गैंगेस्टर एक्ट में सीज कुर्क के आदेश के तहत अभियुक्त के पांच वाहनो को सोमवार को पुलिस ने जप्त किया था। जिसमें एक ट्रैक्टर, एक मोटर साइकिल, एक हाईवा,एक टिपर,एक बोलेरो को कुर्क किया गया ।

इस कार्यवाही के दौरान अनपरा थाना प्रभारी विजय प्रताप सिंह व चौकी प्रभारी चन्द्रभान सिंह मय फोर्स मौजूद रहे।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!