हिरन व बनसुअरा फसलों को कर रहे बर्बाद, किसान चिंतित

अनिता अग्रहरी (संवाददाता)

धीना। कर्मनाशा नदी के किनारे बसे गांवो में हिरन व बनसुअरा खेतों में रहर व गन्ना के फसल को बर्बाद कर रहे है।इससे किसान फसल को लेकर काफी चिंतित दिख रहे है।किसानों ने जिला प्रशासन से हिरन व बनसुअरा के आतंक से छुटकारा दिलवाने को गुहार लगाया है।कर्मनाशा नदी के किनारे स्थित ककरैत, अरंगी, कुंआ, करौती, अदसड, चिरईगांव, चारी आदि गांव शामिल है।इस समय हिरन व बनसुअरा झुंड में रहर व गन्ना के खेतों में घुसकर फसलों को खाने के साथ बर्बाद कर रहे है।इससे किसान अपनी फसल को लेकर चिंता में है।हिरन व बनसुअरा खेतों में झुंड बनाकर फसलों का काफी नुकसान करने में लगें है।ग्रामीण पप्पू पांडेय, अक्षय नाथ तिवारी, भीम तिवारी, संतलाल, बिनोद तिवारी आदि ने जिला प्रशासन से हिरन व बनसुअरा के आतंक से बचाव का मांग किया है।ताकि गन्ना व रहर के फसल को बचाया जा सके।इस सम्बन्ध में वन दरोगा बरहनी मनोज श्रीवास्तव ने कहा कि हिरन व बनसुअरा से फसलों के बचाव के लिए किसान अपने खेतों में पुआल का पुतला जगह जगह लगा दे।पुतला को खेतों में लगाने से काफी हद तक फसलों को नुकसान से बचाया जा सकता है।किसानों से मिलकर इसके लिए जागरूक किया जाएगा।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!