बैठक एवं विरोध प्रदर्शन

कृपाशंकर पांडे (संवाददाता)


ओबरा। विश्व हिन्दू परिषद ओबरा प्रखंड के द्वारा प्रखंड अध्यक्ष आदित्य जयशवाल की अध्यक्षता में कार्यकर्ताओं ने सोनभद्र मुख्यालय से 18 किलोमीटर दूर स्थित विजयगढ़ दुर्ग पर छठी से दशवी सदी की पौराणिक तथा ऐतिहासिक महत्व की गाथा कह रहे वरुण, गणेश, कार्तिकेय जैसे देवी देवताओं के प्रतिमाओं और ऐतिहासिक शिलालेख इत्यादि को धीरे धीरे विधर्मियो द्वारा नष्ट किए जाने तथा बची – खुची मूर्तियों को सोनभद्र स्थानीय प्रशासन द्वारा अतिक्रमण हटाने के आड में उखाड़े जाने तथा स्थानीय प्रत्यक्ष दर्शियो के अनुसार पुलिस द्वारा मय जूता मंदिर में प्रवेश कर अपमानजनक शब्दों का प्रयोग करते हुए वहां लगे त्रिशूल को उखाड़ लेने जैसे कृत्य कर हिंदू धर्म के मान्यताओं का अपमान करने के *विरोध में काली पट्टी बांध कर रोष जताया* गया है और साथ में मांग की जाती है कि 1- एस ओ बरकोनिया को तत्काल निलंबित करने। 2- मंदिर में दर्शन पूजन की तत्काल अनुमति प्रदान की जाए। 3- अतिक्रमण के नाम पर मूर्ति के तोड़े जाने के कारण को स्पष्ट किया जाय। 4- मामले में सम्मिलित अन्य अधिकारियों को दण्डित किया जाय और जिला अध्यक्ष द्वारा चेतावनी देते हुए बताया गया कि यदि हमारी मांगे पूरी नहीं की जाती है तो संगठन आंदोलन और धरना प्रदर्शन के लिए बाध्य होगा जिसकी सारी जिम्मेवारी प्रशासन की होगी। विरोध में विहिप के जिला अध्यक्ष सी बी राय, सहित प्रखंड उपाध्यक्ष राजेश जिंदल, प्रखंड मंत्री मनोज सिंह, सहित शिव प्रताप सिंह, बी डी तिवारी, इत्यादि शामिल रहे।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!