मनरेगा भुगतान की अपूर्ण पत्रावलियां पहुँची BDO के समक्ष,मामले को संज्ञान में लेकर जारी किया आदेश

रिविन शुक्ला (संवाददाता)

बिलसंडा पीलीभीत। खण्ड विकास अधिकारी प्रद्युम्न नारायण द्विवेदी ने आदेश जारी करते हुए कहा कि प्रायः यह देखा जा रहा है कि मनरेगा की भुगतान पत्रावलिया मेरे समक्ष अपूर्ण एवं बिना सम्बन्धितों के हस्ताक्षरो के भुगतान हेतु प्रस्तुत की जा रही है । बिना सक्षम अधिकारियों के हस्ताक्षरों तथा अपूर्ण प्रपत्रों के कार्य का भुगतान किया जाना एक गम्भीर वित्तीय अनियमिता है । किसी भी अधिकारियो के निरीक्षण एवं विभिन्न प्रकार के सम्प्रेक्षणों में पत्रावलियां अपूर्ण पाये जाने पर वित्तीय वसूली का दायित्व निर्धारण किया जा सकता है ।
वही उक्त परिस्थितियों के दृष्टिगत् मनरेगा योजना अंतर्गत भुगतान से पूर्व समस्त पत्रावलियों को रोजगार सेवकों द्वारा ज्ञान प्रकाश मदेशिया लेखा सहायक को उपलब्ध करायी जायेगी । तदुपरान्त मदेशिया द्वारा पत्रावलियों का परीक्षण कर उस पर अपने हस्ताक्षर अंकित कर पत्रावलियां ओमकार कम्प्युटर आपरेटर को एफटीओ बनाने हेतु सौंपी जायेगी । उसके उपरान्त कार्यालय के सहायक लेखाकर द्वारा भुगतान हेतु डोंगल लगाया जायेगा । उक्त व्यवस्था में किसी प्रकार की शिथिलता क्षम्य नहीं होगी ।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!