बक़राईद पर सरकार की गाइड लाइन पर करें अमल-तनवीर रज़ा

फ़ैयाज़ खान मिस्बाही(ब्यूरो)ग़ाज़ीपुर। कस्बा जमानिया स्थित शाही जामा मस्जिद के सेक्रेटरी ने आज जुम्मे के दिन लोगों से अपील की है कि सरकार की गाइडलाइन के अनुसार ईद उल अजहा के त्यौहार मनाएं नफिल कुर्बानी ना करके गरीबों को पैसा सद्का करें कोविड-19 जैसी महामारी को देखते हुए ईद उल अज़हा की इबादत की और अपनी खुशी का इज्हार इसी तरह करें जैसे शब-ए-बरात, रमाजन के आखरी जुमे और इद उल फित्र के अवसर कर चुके हैं। उन्होने कहा कि मुसलमानों के इस रवैय्ये से सामाज में वह जिम्मेदार शहरी होने का उदाहरण बने ईद उल अज़हा के 3 दिनों (10, 11, 12 जिलहिज्ज) 01, 02 और 03 अगस्त में कुर्बानी खुदा पाक की पसन्दीदा इबादत है। इस लिए कानूनी दायरे में रहते हुए कुर्बानी को अंजाम दे.जो लोग अपनी कुर्बानी के साथ साथ हर साल नफली कुर्बानियाॅ कराते थे वह मौजूदा महामारी (कोविड-19) से पैदा हालात को देखते हुए वह पैसा गरीबों को दे! कुर्बानी के समय एक स्थान पर 5 से अधिक लोग जमा ना हों।कुर्बानी के स्थानों पर सैनेटाइजेशन, मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग जैसे आदेशों पर जरूर अमल किया जाए।सड़क के किनारे, गली और पब्लिक स्थानों पर कुर्बानी न की जाए।जानवरों की गन्दगी रास्तों या पब्लिक स्थानों पर न फेंके बल्कि कोड़ेदानों ही का प्रयोग करें।कुर्बानी के जानवरों का खून नालियों में न बहायें। कुर्बानी करते समय फोटो या वीडियो न बनायी जाए और न उसको सोशल मीडिया पर अपलोड किया जाए!


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!