वसूली में लापरवाही बरतने वाले अमीनों पर होगी कड़ी कार्यवाही : डीएम

आनन्द कुमार चौबे (संवाददाता)

सोनभद्र । जिले के सभी उप जिलाधिकारी, तहसीलदारगण व राजस्व कार्मिक जमीन सम्बन्धी विवादों को तत्परता पूर्वक पुलिस बल के साथ निस्तारित करायें। उन्होंने निर्देशित किया कि राजस्व मुख्य देयों की वसूली बिना किसी उत्पीड़ात्मक कार्यवाही के की जाय। मुख्य देयों व विविध देयों की वसूली अमीनवार लक्ष्य निर्धारित करते हुए करायी जाय, जो अमीन वसूली करने में सुस्त है, उसकी व्यक्तिगत जिम्मेदारी तय करते हुए प्रभावी कार्यवाही की जाय। जिलाधिकारी ने कहा कि जिस तहसील की बकाया की वसूली कम होगी, उस तहसील के उप जिलाधिकारी की खबर लेते हुए तहसीलदार, अमीन व एडब्ल्यूबीएन की भी जिम्मेदारी तय की जायेगी। उन्होंने कहा कि अमीनों के पास मात्र वसूली का काम होता है और अमीनों को बैठाकर वेतन न दिया जाय, उनसे हर हाल में वसूली का काम लिया जाय, जो उप जिलाधिकारी व तहसीलदार अपने तहसीलों के अमीनों से काम नहीं करायेगा, उनको खामियाजा भुगतनी पड़ेगी। उन्होंने कहा कि सम्बन्धित तहसीलों में तैनात एडब्ल्यूबीएन अगर रूचि से काम नहीं करते हैं, तो उनकी भी जिम्मेदारी तय की जायेगी। जरूरत पड़ने पर कड़ी कार्यवाही अमल में लायी जायेगी।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!